Advertisement


स्मार्ट सिटी करनाल में सड़कों के बुरे हालात फिलहाल बदलने का नाम नही ले रहे हैं। पूर्व ज़िला उपयुक्त मनदीप सिंह बराड़ ने शहरवासियों को 15 अगस्त तक घडों से मुक्त सड़क देने का वादा किया था। 15 तारिक का अल्टीमेटम भी निकल गया और उपयुक्त भी बदल गए, लेकिन सड़कों की सूरत नही बदली। आज करनाल ब्रेकिंग न्यूज़ की टीम शहर के सबसे खतरनाक चौक के नाम से बदनाम यमुनानगर/बलड़ी बाईपास पहुंची।

NH1 की सड़कों की हालत तो बुरी है ही और साथ में बिना कवर के सिवरेज खुले मुह से हादसों को बुलावा दे रहे हैं। मौके पर पहुंचे गांव के लोगों ने इस समस्या के प्रति ज़िला प्रशासन और सोमा कंपनी जिसके पास पानीपत से जालंधर तक पुल बनाने का ठेका है, दोनों पर इसे गंभीरता से ना लेने का आरोप भी लगाया। कुछ युवाओं ने अपनी बाजू पर लगे टांकों को दिखाते हुए इन्ही खुले नालों की वजह से हुई बाइक दुर्घटना का भी ज़िक्र किया।

मौजूदा गांववासियों ने समशान घाट के सामने बने अंडरपास की खस्ता हालत और जलभराव की समस्या का भी ज़िक्र किया। लोगों ने ज़िला प्रशासन को इन जानलेवा समस्याओं की और जल्द ध्यान देनी को कहा और हल ना होने पर हाईवे जाम करने की धमकी भी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.