Advertisement


करनाल-हिंदूओं संगठनों द्वारा बाबरी ढांचा विध्वंस 6 दिसंबर 1992 को हिन्दू कारसेवकों द्वारा किया गया। तब से आज तक हर वर्ष 6 दिसंबर का दिन शौर्य दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस बार भी आज शनिवार को बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा करनाल में शौर्य दिवस पर विशाल शोभा यात्रा निकाली गई। इस अवसर पर हिन्दू एकता का परिचय देते हुए सैंकड़ों की संख्या में युवा भगवा ध्वज लेकर इस शोभा यात्रा में शामिल हुए। शोभा यात्रा का आयोजन विवेकानंद पब्लिक स्कूल से आरंभ होकर शहर के सभी विभिन्न जगहों से होते हुए घंटाघर चौंक, दयालपुरा गेट, कर्ण गेट, नेहरू पैलेस होते हुए वापिस विवेकानंद में विश्राम हुआ। जगह-जगह पर शोभा यात्रा का पफूलों से स्वागत किया गया। इस अवसर पर विहिप के प्रांत संयोजक अतुल शास्त्राी ने अपने बौ(िक विचारों में बोलते हुए कहा कि राम मंदिर हिन्दूओं की आस्था का प्रश्न है। आज से 25 वर्ष पहले हजारों हिंदूओं ने अपनी आस्था का परिचय देते हुए बाबरी मस्जिद को गिराया था। तब से हर वर्ष पूरे देश में इस दिन को शौर्य दिवस के रूप में मनाया जाता है।

इस अवसर पर बोलते हुए विहिप के चन्द्रवीर भाटिया ने कहा कि 1992 से बाबरी मस्जिद टूटने से पहले भी हिन्दूओं ने राम मंदिर के लिए लगभग 76 लड़ाईयां लड़ी। अब तक इसमें हजारों हिंदू कुर्बान हुए। उन्होंने कहा कि सभी हिंदू भाई चाहते हैं कि अयोध्या में राम मंदिर बने अब तो इस बारे में कई मुस्लिम भी समर्थन में आ गए हैं कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण हो और मस्जिद कहीं और बनाई जाए। लेकिन कांग्रेस अपने वोटबैंक के लिए जानबूझकर इस मामले को लटकाना चाहती है जिसका उदाहरण सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल का ब्यान है जिसमें वह इस मामले को लटकाना चाहते हैं। इससे कांग्रेस की मंशा सापफ झलकती है। हम चाहते हैं कि कोर्ट इस मामले का जल्द निपटारा करे और वहां एक विशाल एवं भव्य राम मंदिर का निर्माण हो। इस अवसर पर विनीत खेड़ा, जुगल बठला, चन्द्रवीर भाटिया, महेश गुलाटी, अमूल मित्तल, मोहित बत्रा, विवेक लाम्बा, श्रवण बठला, अंकित टांक, बादल ग्रोवर, राकेश बठला, आनन्द शर्मा, कपिल आहुजा, संजय बत्रा, सुमित पोपड़ा, अक्षय राणा, बलजीत सिंह राणा, नरजेश सैनी, सुभाश जी, नरेन्द्र जी, सि(ार्थ उप्पल, सुदर्शन कंसल, विक्की टंडन सहित सैंकडों कार्यकर्ता शामिल हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.