Advertisement


उपायुक्त डा0 आदित्य दहिया ने शुगर मिल अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि हमारा फोकस केवल मिल को ठीक-ठाक चलाना व किसानों को बेहतर सुविधा देना है, इसके लिए सभी मिल अधिकारी व कर्मचारी बेहतर तैयारी करें, किसानों से लगातार सम्पर्क बनाए रखें। इस बार मिल में अधिक से अधिक गन्ने की पिराई हो और चीनी के उत्पादन का लक्ष्य भी कम से कम 11 प्रतिशत तक पहुंचे।

उपायुक्त मंगलवार देर सायं शुगर मिल में पिराई सत्र की तैयारियों का जायजा लेने के लिए पहुंचे उन्होंने शुगर मिल अधिकारियों से तैयारियों के बारे में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि शुगर मिल किसानों के अनुरोध पर समय से पहले 7 नवम्बर को चलाने की योजना है। पिराई सत्र से पहले सभी व्यापक प्रबंध किए जाए। मशीनरी की गहनता से जांच की जाएं ताकि मिल के चलने के बाद कोई रूकावट ना आए। उन्होंने मिल में घुमकर सभी मशीनरियों के बारे में जानकारी ली तथा मिल की व्यवस्था के बारे में जाना। चीफ इंजिनियर विरेन्द्र दहिया ने उपायुक्त को मिल के बारे विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि यह मिल काफी पुराना है, मिल के कर्मठ कर्मचारियों व किसानों के सहयोग से पिछले सीजन में  करीब 28 लाख क्विंटल गन्नें की पिराई की गई तथा चीनी का उत्पादन 10.87 प्रतिशत रहा। उन्होंने कहा कि मिल द्वारा सीजन में प्रतिदिन 22 हजार क्विंटल गन्नें की पिराई की जाती है।

एमडी शुगर मिल प्रद्युमन सिंह ने पिराई सीजन की तैयारियों की जानकारी देते हुए बताया कि शुगर मिल स्टाफ द्वारा पिराई सीजन की सभी तैयारियां पूरी कर ली है और इसका ट्रायल भी कर लिया गया है। यहां किसी प्रकार की दिक्कत नही है। मिल द्वारा 1.5 मैगावाट बिजली का उत्पादन होता है, जिससे मिल की खपत को पूरा किया जा सकता है। पिराई सीजन से पहले किसानों से सम्पर्क किया जा रहा है ताकि अधिक से अधिक गन्ना समय से मिल में आ सकें। इस मौके पर सीओ ओमबीर राणा, कैन मैनेजर वजीर सिंह, चीफ कैमिस्ट पीके सक्शेना, अधीक्षक मुल्तान सिंह मैहला, उप चेयरमैन पवन कल्याण, डायरेक्टर रतन सिंह सहित शुगर मिल के कर्मचारी व युनियन के पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

शुगर मिल निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने मिल कर्मचारियों की समस्याओं के बारे में जानकारी ली। शुगर मिल ऐसोसिएशन के प्रधान राकेश कुमार ने उपायुक्त को बताया कि शुगर मिल का स्टाफ काफी मेहनती है, स्टाफ की कमी के कारण काफी दिक्कत आती है इसलिए कुछ डीसी रेट पर कर्मचारियों की नियुक्ति की जाए तथा डीसी रेट को भी बढ़ाया जाए। उपायुक्त ने कर्मचारियों को आश्वासन दिया कि उनके स्तर पर जो भी मांगे है उन्हें तुरन्त पूरा किया जाएगा।

उपायुक्त ने युनियन के पदाधिकारियों, मिल के डायरेक्टरों व अधिकारियों को कहा कि आप सभी का सहयोग चाहिए। मिल के चलने में कोई दिक्कत प्रशासन की तरफ से नही आने दी जाएगी। हमारा लक्ष्य हर स्तर पर सुविधा देना है, उपायुक्त ने एमडी प्रद्युमन सिंह को कहा कि यदि कर्मचारियों की कोई भी मांग या कोई समस्या है तो उसे पूरा करवाएं, वह हर समस्या के हल के लिए तैयार है।

मिल स्टाफ व डायरेक्टर ने उपायुक्त को दिया हर सम्भव सहयोग का आश्वासन

शुगर मिल इस सीजन में 7 नवम्बर को चलाए जाने की योजना है। मिल द्वारा व्यापक प्रबंध किए गए है। उपायुक्त ने प्रबंधों का जायजा लिया और उपस्थित मिल स्टाफ व डायरेक्टर से मिल चलाने में सहयोग मांगा। इस मौके पर उपस्थित उप चेयरमैन पवन कल्याण, डायरेक्टर रतन सिंह व शुगर मिल ऐसोसिएशन के सभी पदाधिकारियों ने उपायुक्त को आश्वासन दिया कि मिल को चलाने में किसी प्रकार की दिक्कत नही आने देगें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.