Advertisement


करनाल (भव्य नागपाल): राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान में वैज्ञानिकों ने श्रमदान करके राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा पूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। संस्थान के निदेशक डा. आरआरबी सिंह अगुवाई में 17 सितंबर से 2 अक्तूबर तक चले स्वच्छता ही सेवा नामक पखवाड़े में वैज्ञानिक से लेकर विद्यार्थियों ने लोगों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया। एनडीआरआई के लगभग 1200 कर्मचारियों और 1000 विद्यार्थियों ने अलग अलग दिन संस्थान के अलावा सेक्टर-12 मार्किट, मीनार रोड तथा कर्ण लेख सहित शहर के अन्य स्थानों की  सफाई की।

स्वच्छता पखवाड़े के दौरान बेहतर श्रमदान देने वालों को अवार्ड देकर सम्मानित भी किया गया। अवार्ड बेस्ट क्वार्टर, बेस्ट होस्टल, बेस्ट डिवीजन तथा व्यक्तिगत श्रेणी में प्रदान किए गए। इसमें कावेरी होस्टल को बेस्ट होस्टल चुना गया। प्रयोगात्मक डेरी व कैटल यार्ड को बेस्ट अनुभाग तथा डेरी टेक्नोलोजी तथा एनीमल बायोटेक्नोलोजी रिसर्च सेंटर को बेस्ट क्लीनेस्ट डिविजन का अवार्ड प्रदान किया गया। इसी प्रकार से स्वीपर की श्रेणी में दीपक, माली की श्रेणी में गौरी शंकर तथा एमई सेक्शन से ओमप्रकाश को सफाई अभियान में अच्छा योगदान देने पर सम्मानित किया गया।

डा. आरआरबी सिंह ने कहा बापू के क्लीन इंडिया के सपने को पूरा करना हिन्दुस्तान के प्रत्येक नागरिक का प्रथम कर्तव्य है। देश के लिए स्वच्छता का मुद्दा बहुत ही अहम है। उन्होंने कहा कि लोगों को स्वच्छता के लाभ के प्रति जागरूक करना होगा, इसके लिए सामूहिक स्तर पर प्रयास होना चाहिए। सभी के प्रयासों के चलते अब करनाल स्मार्ट सिटी की श्रेणी में शामिल हो गया और इसलिए सफाई अभियान का यह सिलसिला मात्र गांधी जयंती तक ही सीमित न रख कर नियमित रूप से चलाएं। सफाई अभियान प्रभारी डा. सुजीत झा ने स्वच्छता पखवाड़े की रिपोर्ट प्रस्तुत की। इस अवसर पर संयुक्त निदेशक अनुसंधान डा. बिमलेश मान, संयुक्त निदेशक प्रशासनिक श्री सुशांत शाह, डा. एके चक्रवर्ती सहित अन्य वैज्ञानिक, अधिकारी, कर्मचारी तथा विद्यार्थीगण उपस्थित रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.