Advertisement


करनाल (भव्य नागपाल): पानीपत में एक लड़की ने अपनी सहेली की हत्या कर उसके मुँह को पहले एसिड से जलाया और अपने कपड़े व ID प्रूफ़ वाह रख प्रेमी संग फरार हो गई। एक दिन बाद शिमला से हत्या करने वाली ज्योति को उसके प्रेमी कृष्ण के साथ पानीपत पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

हरियाणा के पानीपत जिले से एक चौका देने वाली खबर सीमने आई है। एक लड़की ने अपने प्रेमी के साथ जीवन बिताने के लिए ऐसा कारनामा किया, जिसने पूरे पानीपत को हिलाकर रख दिया। एक लड़की की हत्या जितनी खतरनाक तरीके से की गई थी, इसकी कहानी उससे ज्यादा खौफनाक मिली। दरअसल, हरियाणा के पानीपत के एक गोशाला परिसर के कमरे में जिस ज्योति का तेजाब से जला शव मिलने का दावा मंगलवार को पानीपत पुलिस ने किया था, वह शिमला के एक होटल में अपने प्रेमी के साथ अर्धनग्न हालत में जिंदा पकड़ी गई है। उस दिन हत्या ज्योति की नहीं एसडी कालेज की सैकेंड ईयर की छात्रा सिमरन की गई थी।  दोनों आरोपियों का इरादा एक युवक की हत्या का भी था, ताकि घर वाले उन दोनों को मृत मान लें और वे कहीं दूर रहकर अपने प्रेम को परवान चढ़ाएं। पानीपत पुलिस के अनुसार आर्य कालेज की बीए फाइनल ईयर की छात्रा ज्योति और उसके साथी कृष्ण को पुलिस ने वीरवार तड़के शिमला बस स्टैंड के नजदीक एक होटल से अर्धनग्न हालत में बरामद कर लिया है।

ऐसे रची साजिश
पुलिस के अनुसार सिमरन भी कृष्ण के कालेज में ही पढ़ती थी, दोनों एनएसएस कैंप में भी साथ रह चुके हैं। कृष्ण अपनी गर्लफ्रेंड ज्योति का साथ पाना चाहता था, दोनों को यह आशंका थी कि परिजन उन्हें कभी मिलने नहीं देंगे। इसलिए उन्होंने अपनी जगह किसी और का कत्ल कर खुद भाग जाने का प्लान बनाया। पुलिस के अनुसार मंगलवार को कृष्ण के बुलाने पर ही सिमरन गोशाला परिसर के कमरे में पहुंची थी,  उसके बाद वह अपने एक और साथी को फोन कर बुलाता रहा। इस बीच सिमरन को पीने के लिए नशीला कोल्ड ड्रिंक दिया गया, उसके बाद उसकी गला दबाकर हत्या कर दी गई तथा उसे ज्योति के कपड़े पहनाकर चेहरे पर तेजाब डाल दिया गया। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि सिमरन तो उस दिन समय पर पहुंच गई मगर दूसरा युवक कई बार फोन करने पर भी नहीं पहुंचा, उसने देर से आने की बात कही। सिमरन की हत्या के बाद वे दूसरे लड़के का इंतजार कर ही रहे थे कि तभी कोचिंग टीचर गोशाला परिसर में आ गई जिसे देखकर दोनों घबरा गए और वहां से भाग गए, ज्योति का आईडी कार्ड और दूसरे पहचान पत्र दोनों ने मौके पर ही छोड़ दिए थे। दोनों को उम्मीद थी कि वे खुद को मरा हुआ दिखा कर अपने अंतरजातीय प्रेम को परवान चढ़ाएंगे मगर उनकी साजिश को सीआईए-थ्री पुलिस ने बेनकाब कर दिया। पानीपत पुलिस की सीआईए शाखा ने एक पूर्व सूचना पर कृष्ण की गिरफ्तारी के लिए शिमला के होटल पर छापा मारा था, पुलिस को उम्मीद थी कि यहा कृष्ण के साथ सिमरन मिलेगी, मगर होटल के कमरे में कृष्ण के साथ ज्योति को पाकर पुलिस टीम भी हैरान रह गई। टीम ने आला अधिकारियों को इसकी जानकारी दी और वीरवार शाम को टीम दोनों को लेकर पानीपत वापस आ गई।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.