May 22, 2024

करनाल पुलिस की सी.आई.ए-2 शाखा को मिली कामयाबी ,मध्यप्रदेष से नषे की खेप लेकर आए दो नषा तस्करों को किया गिरफतार जिनके कब्जे से 1.44 क्विंटल चुरापोस्त किया बरामद ! करनाल पुलिस की क्राइम युनिट सी.आई.ए-2 टीम ने असंध करनाल रोड़ पर गस्त के समय जैसे ही पुलिस टीम थाना निसिंग क्षेत्र में पड़ने वाले गांव प्यौंत में ड्रेन पुल के पास पहुंचे तो उन्हें मुखबीर खास से सुचना प्राप्त हुई कि यहां से आगे कुछ दूरी पर नषे का कारोबार करने वाले दो तस्कर एक कैंटर गाड़ी में बहुत बड़ी नषे की खेप के साथ मौजुद हैं, यदि तुरंत कार्यवाही की जाए तो आरोपीयों को रंगे हाथों गिरफतार किया जा सकता है !

जिसके बाद सुचना मिलते ही सी.आई.ए-2 टीम ने योजनाबद्व तरीके से उस स्थान पर छापामारी की और दोनों तस्करों दिदार सिंह और हरमनदीप सिंह को धर दबोचा ! आरोपीयों के कैंटर की तलाषी लेने पर पुलिस को उससे भारी मात्रा में चुरापोस्त बरामद हुई ! पुलिस टीम ने आरोपीयों को गिरफतार कर व उनसे बरामद नषे की खेप को कब्जा में लेकर थाना निसिंग में धारा एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया !

पुलिस टीम द्वारा आरोपीयों से पुछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि वे सोनालिका ट्रैक्टर के स्पेयर पार्ट का सामान लेने के लिए चेन्नई गए थे, सामान लौड़कर करके उन्हें यह सामान नोएडा व होषियारपुर में पहुंचाना था ! चेन्नई से लौटते समय मध्यप्रदेष के जावरा जिला में एक ढ़ाबा पर चाय-पानी पिने के लिए रूके, आरोपी दीदार सिंह उर्फ दारा सिंह इस ढ़ाबा पर पहले नौकरी कर चुका था ! उसने दिंनाक 21.06.17 की रात को वहां से अपने कैंटर में 1.44 क्विंटल चुरापोस्त लौड की ,

जिसे उसने गांव पक्का खेड़ा में लेकर आना था और आरोपी काफी हद तक अपने मनसुबों में कामयाब भी हो गए थे, लेकिन सी.आई.ए-2 की टीम ने आरोपीयों के मनसुबों पर पानी फेर दिया व उन्हें सलाखों के पिछे पहुंचा दिया !

इस विषय में जानकारी देते हुए सी.आई.ए-2 निरीक्षक जसपाल ढ़िल्लों ने बताया कि आज दिनांक 24.06.17 को आरोपीयों को अदालत के सामने पेषकर पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा व आरोपीयों की निषान देही पर नषे की तस्करी करने वाली पाईपलाईन की जड़ तक पहुंचने का पुरा प्रयास किया जाएगा ! ताकि इसकी जड़ को काटकर अपने युवा समाज को नषे की इस लत से बचाया जा सके और नषे की आग को पुरा करने के लिए हमारी युवा पिढ़ी दिन-प्रतिदिन जो अपराध करती है उनसे समाज को सुरक्षित किया जा सके !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.