Advertisement


भारत विकास परिषद श्री राधा-कृष्ण शाखा ने घोघड़ीपुर फाटक के नजदीक इन्द्रा कालोनी में कार्यक्रम आयोजित कर जरुरतमंद लोगों को जीवन उपयोगी वस्तुएं दूध, फल व भोजन का अन्य सामान वितरित किया। परिषद् के अध्यक्ष गौरव खुराना ने कहा कि प्राणी मात्र की सेवा ही प्रभु सेवा है और प्रभु की सेवा समझकर ही परिषद समय-समय पर इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन करती रहती है। मनुष्य में संस्कार समर्पण के भाव पैदा करके उसमें सेवाभाव पैदा करना परिषद का मुख्य उद्देश्य है और इसमें वह शुरु से ही लगे हुए हैं।
संस्था के ऑडिटर संजय बत्तरा ने बताया कि परिषद् का मुख्य रूप से उद्देश्य मानव मात्र में सेवा संस्कार समर्पण सहयोग का भाव पैदा करना है। परिषद की स्थापना ही इन मूल्यों की स्थापना को लेकर हुई थी। अपनी स्थापना से लेकर अब तक पूरे जोर शोर से संस्था इन मूल्यों को समाज में स्थापित करने के लिए लगी हुई है। उन्होंने दानवीर कर्ण की धरती करनाल के नागरिकों से आह्वान किया कि वह भी मानवीय मूल्यों के प्रति अपनी सजगता निभाते हुए सकारात्मक रूप से अपने दायित्व का निर्वाह करे।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से परिषद् के अध्यक्ष गौरव खुराना, सचिव मानव पुरी, जे.पी. मदान, नन्द खुराना, कपिल, संदीप कौशिक, आशीष चुटानी, आडिटर संजय बत्तरा, जोगेन्द्र जूड सहित संस्था के बाकी पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.