Advertisement


(मालक सिंह) लगातार दुर्घटनाओं के बावजूद भी नहीं चेत रहा जिला प्रशासन, अंकुश लगाना जिला प्रशासन के लिए भी एक बड़ी चुनौती है। आज देर शाम इंद्री के पास विनोद पुत्र सुरेन्द्र शर्मा वासी वार्ड नं 7इन्द्री का  रहने वाला था जो कि हरियाणा पुलिस मे तैनात था जिसकी डयुटी यमुनानगर एस पी आफिस मे थी अभी अभी रोड एक्सीडेंट मै मौत हो गई है जो पैदल जा रहा था ट्रक वाले ने कुचल दिया !ट्रक चालक मौके से फरार हो गया है ट्रक मौके पर खडा है पुलिस पहुच चुकी है ! यह एक्सीडेंट मटक माजरी रोड पर हुआ है
सुबह भी एक ट्रक एक्सीडेंट में संघोहा के एक व्यक्ति की मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। जिले की सड़कों पर मौत के वाहन दौड़ रहे हैं। जिस पर अंकुश लगाना जिला प्रशासन के लिए भी एक बड़ी चुनौती है। अक्सर भारी वाहनों से निर्दोष काल के गाल में समा रहे हैं। फिर भी सड़कों पर दौड़ रही मौत के वाहनों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है।
गौरतलब है कि, सड़कों पर जो मौत के वाहन फर्राटे भर रहे हैं।
इन वाहनों से पुलिस वसूली कर मनमाफिक रूट से जाने के लिए खुला छूट दे देती है। जिससे यह वाहन निर्धारित गति से ज्यादातर तेज रफ्तार से फर्राटे मारते हैं। जिससे आए दिन सड़कें निर्दोषों के खून से रंगी रहती है। यदि भारी वाहनें गति पर नियंत्रण रखें तो हो रही दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सकता है।
दुर्घटनाओं में अंकुश नहीं ,हालांकि पुलिस ने दुर्घटनाओं को लेकर डेंजर जोन स्थान चिह्नित कर दिया था। लेकिन पुलिस के चिह्नित डेंजर जोन के अलावा भी अब मौत का खतरा बना रहता है, क्योंकि भारी वाहन चालक कहां दुर्घटना को अंजाम देंगे, यह कोई नहीं जानता। यदि सड़कों पर दौड़ रहे भारी वाहनों की जांच पड़ताल कर उन्हें समझाइश दी जाए तो शायद दुर्घटनाओं पर अंकुश लग सकता है।
दिनभर निकलते हैं सैकड़ों वाहन,जिले की इंद्री यमुनानगर रोड से दिनभर में लगभग सैकड़ों वाहन निकलते हैं। जिससे इंद्री रोड पर पड़ने वाले गाँव के स्थानीय लोग व उसे रूट से निकल रहे छोटे वाहन चालक जान हथेली पर रखकर सफर करते हैं। यदि इन वाहनों को रोक लगाया जाए तो आए दिन खून से लाल हो रही सड़कों में कमी आ सकती है। लेकिन इस मसले को लेकर प्रशासन भी गंभीरता नहीं दिखा रही है। जिससे राहगिर व छोटे वाहन चालक मौत के वाहनों से सहमें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.