Advertisement


जैसा की विदित है कि दिनांक 22.10.17 को आजम अली पुत्र उमर मौहम्मद वासी खुलेरी थाना चारतावाल जिला मुजफरनगर यु.पी. ने थाना घरौंडा में षिकायत दी कि दिनांक 21.10.17 को समय करीब 11/11ः30 बजे उसका भाई हसमत अली जो कि घरौंडा स्थित अपनी दूकान पर अकेला मौजुद था। किन्हीं अज्ञात व्यक्तियों ने उसकी दूकान में घुसकर उसे बुरी तरह से मारा-पिटा, जिसकी वजह से वह गंभीर रूप से घायल हो गया। जब वह अपने भाई को हस्पताल लेकर गया तो डाक्टरों ने उसे पी.जी.आई. चण्डीगढ़ रेफर कर दिया। पुलिस ने उसकी षिकायत पर थाना घरौंडा में भा.द.स. की धाराओं के तहत मामला दर्जकर मामले छानबीन शुरू की।
    पुलिस अधीक्षक करनाल श्री जषनदीप सिंह रंधावा भा.पु.से. के आदेषों अनुसार स्वयं प्रबंधक थाना घरौंडा निरीक्षक हरजिन्द्र सिंह ने इस मामले की जांच शुरू की। वे मामले की जांच कर रहे थे, इसी बीच दिनांक 24.10.17 को पी.जी.आई. चण्डीगढ़ में इलाज के दौरान हसमत अली की मृत्यु हो गई। जिससे पुलिस के लिए मामले को सुलझाना ओर भी मुष्किल हो गया। लेकिन इस सब के बावजुद प्रबंधक थाना ने कड़ीयों को जोड़ना शुरू किया, परंतु कोई खास सफलता उन्हें नहीं मिली। फिर उन्होंने अपने गुप्त सुत्रों का सहारा लिया। जिससे उन्हें ज्ञात हुआ कि दिनांक 14.10.17 को गली में लगे नल के पास मृतक हसमत अली और घरौंडा वासी गौतम पुत्र बलबीर में किसी बात को लेकर झड़प हुई थी। इस झड़प के दौरान गौतम ने हसमत को जान से मारने की धमकी भी दी थी।
     जानकारी होने के बाद उन्होनें गौतम के आस-पास नजर दौड़ाई और धीरे-धीरे उसपर षिकंजा कसना शुरू किया। गौतम न किसी से ज्यादा बात करता था व दूसरों से मिलने से भी बचने की कौषिष करता था। जब प्रबंधक थाना का शक यकिन का रूप लेने लगा तो कल दिनांक 31.10.17 की शाम को उन्होंने कस्बा घरौंडा से गौतम पुत्र बलबीर को गिरफतार कर उससे सख्ती से पुछताछ की। पुछताछ के दौरान आरोपी ने अपना गुनाह कबुल कर लिया। उसने बताया कि दिनांक 14.10.17 को हुई कहा सुनी में हसमत अली ने जो उसका अपमान किया था, वह उसका बदला लेना चाहता था और उसी दिन से वह मौके की तलाष में था। दिनांक 21.10.17 को जब सभी पड़ोस के घर में हुई मौत पर वहां गए हुए थे, तो मैने हसमत को अकेले पाकर लोहे की पाईप से उस पर हमला कर दिया।
    पुलिस टीम द्वारा आरोपी को आज माननीय अदालत के सामने पेषकर पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा। दौराने रिमांड आरोपी से वारदात में प्रयोग की गई लौहे की पाईप बरामद की जाएगी और पूछताछ की जाएगी कि क्या कोई ओर भी इस सब में उसके साथ शामिल था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.