Advertisement


हरियाणा अतिथि अध्यापक संघ का प्रतिनिधमंडल रविवार को सांसद अश्वनी चोपड़ा से उनके निवास पर मिला। ज्ञापन सौंप कर सभी अतिथि अध्यापकों को नियमित करने की मांग को जोरशोर से उठाया गया। सांसद ने अध्यापकों को आश्वासन दिया कि वह संसद के शीतकालीन सत्र में अतिथि अध्यापकों की आवाज को उठाएंगे। देशभर में कई जगह गेस्ट टीचर लगाए गए हैं।
यह मामला संसद में उठाया जाएगा। सांसद ने कहा कि वह मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री से भी इस मामले को लेकर बातचीत करेंगे। सीएम सिटी में पड़ाव के 33वें दिन इंद्री ब्लाक से नारंग चंद की अध्यक्षता में बाबूराम, राजेश, हरदीप व इंद्रजीत धरने पर बैठे। इस मौके पर प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र शास्त्री ने कहा कि गेस्ट टीचर लगातार 12 साल से मानसिक परेशानी को झेल रहे है। सरकार आने पर पहली कलम से नियमित करने का वायदा करने वाली भाजपा सरकार आज गेस्ट टीचरों को घर बैठाने पर तुली हुई है। नियमित करना तो दूर हमारे कुछ जेबीटी साथियों को सरप्लस के नाम से घर बैठा दिया है।
सरकार की इस मंशा को अब सहन नहीं किया जाएगा। संघ की मुख्य मांगों में सरकार हटाए गए जेबीटी सहित सभी गेस्ट टीचरों को तुरन्त प्रभाव से समायोजित करने के आदेश जारी करे। नियमित नियुक्ति के आदेश जारी नहीं होने तक सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए समान काम समान वेतन लागू करे तथा जल्द से जल्द गेस्ट टीचरों को रेगुलर करने के आदेश जारी कर रेगुलर करने के अपने वायदे को पूरा करने का काम करे। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र शास्त्री, जिला अध्यक्ष कैथल सुभाष रविश, जिला अध्यक्ष करनाल राजकुमार, महिला विंग जिला प्रधान सुरेंद्र सहगल, वरिष्ठ उपप्रधान रीतू मान, जिला महासचिव मेनका शर्मा, नरेंद्र संधु, मंडल प्रधान कुलदीप संधु, ईशम सिंह, रणधीर सांवत, महिंद्र बतान, सुनील, महेश, राम कुमार, हरीश ग्रोवर, राम कुमार आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.