June 24, 2024
  • हथियारों के बल पर लूट की वारदात को अंजाम देने वाले गैंग को करनाल पुलिस ने किया गिरफ्तार
  • असंध में ज्वैलर्स दीपक मेहता के घर हुई डकैती के 5 आरोपी पुलिस ने पकड़े
  • आरोपियों के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल एक पिस्तौल व एक पल्सर मोटरसाईकिल की गई बरामद

पुलिस अधीक्षक करनाल शशांक कुमार सावन के मार्गदर्शन में कार्य करते हुए जिला पुलिस की टीमें विभिन्न मामलों में संलिप्त अपराधियों की धरपकड़ करने में जुटी हुई हैं। इसी क्रम में कार्यवाही करते हुए जिला पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। उप निरीक्षक ऋषिपाल के नेतृत्व में कार्य करते हुए जिला पुलिस की स्पेशल यूनिट असंध की टीम द्वारा दिनांक 3/4 मई 2023 की रात को नकाब पोश हथियार बंद बदमाशों द्वारा दीपक वासी असंध के घर में घुसकर उसके घर में कीमती जेवरात व नगदी लूट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है।

टीम द्वारा कल दिनांक 24 मई 2023 को आरोपी
1. वजीर पुत्र लिली वासी कहुसन जिला जींद
2. दीपक उर्फ बाडा पुत्र राजबीर वासी मोहनगढ़ जिला जींद
3. संदीप पुत्र सताराम वासी गांव छात्र जिला जींद हाल टोहाना जिला फतेहाबाद व
4. दीपक उर्फ गोनी पुत्र लखमी वासी नगुरा थाना अलेवा जिला जींद को विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर नगुरा जिला जींद से गिरफ्तार किया गया व आज दिनांक 25 मई को पांचवे आरोपी सुच्चा सिंह पुत्र गुरचरण सिंह वासी गांव मड़वाल जिला करनाल हाल असंध जिला करनाल को असंध से गिरफ्तार किया गया।

आरोपियों के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल एक अवैध पिस्तौल 315 बारे व एक पल्सर मोटरसाईकिल बरामद की गई।

आरोपियों से प्रारम्भिक पूछताछ व अन्य विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी आदतन अपराधी हैं। आरोपी नशा करने, अय्यासी करने व ऐशो आराम करने के लिए हथियारों के बल पर चोरी व लूट जैसी वारदातों को अंजाम देते हैं। जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपी सुच्चा सिंह शिकायतकर्ता दीपक वासी असंध का दोस्त है। आरोपी सुच्चा सिंह को दीपक के घर के बारे में सारी जानकारी थी।

जिसको पता था कि शिकायतकर्ता के घर में काफी जेवरात व नगदी मौजूद है। जिसके बाद आरोपी सुच्चा सिंह ने यह जानकारी आरोपी वजीर उपरोक्त को दी और वारदात से चार/पांच दिन पहले रैकी करते हुए आरोपी वजीर को शिकायतकर्ता का घर दिखा दिया था।

जिसके बाद आरोपी वजीर ने अपने तीन अन्य उपरोक्त साथियों के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम देने की योजना बनाई और पिस्तौल, तलवार आदि हथियार लेकर दिनांक 3/4 मई 2023 की रात को शिकायतकर्ता के घर का गेट तोडकर उसके घर में घुस गए। जिसके बाद आरोपियों से घरवालों को गन प्वाइंट पर बंधक बनाकर व उनको चोट मारकर घर में रखे कीमती जेवरात व 5.8 लाख हजार रूप्ये की नगदी लूट कर मौका से फरार हो गए।

इस वारदात के संबंध में दिनांक 3/4 मई 2023 की रात को करनाल पुलिस को सूचना प्राप्त हुई थी कि दीपक मेहता व उसके परिवार को बंधक बनाकर कुछ अज्ञात नकाबपोश हथियार बंद बदमाशों द्वारा दीपक मेहता के घर से लूट की वारदात को अंजाम दिया गया है। जिसके बाद डायल 112 की टीम, स्पेशल यूनिट असंध की टीम व थाना असंध की टीम ने मौके पर पंहुचकर मौका मुआयना किया और आरोपियों की धरपकड़ में जुट गई। इस संबंध में दीपक पुत्र रोशनलाल मेहता वासी वार्ड न0.8 असंध जिला करनाल ने दिनांक 4 मई 2023 को थाना असंध में शिकायत दी थी।
जिसमें उसने बताया था कि दिनांक 3/4 मई 2023 की रात को वह अपने परिवार के साथ अपने घर में सो रहा था। रात के समय करीब ढ़ाई बजे चार अज्ञात नकाबपोश व्यक्ति उसके घर का गेट तोडकर उसके घर में घुस गए।

जिनके हाथ में असला व तलवार थीं। हथियार बंद अज्ञात व्यक्तियों ने उसके परिवार को गन प्वाइंट पर ले लिया और उसके घर में से अलमारी में रखे 5.8 लाख रूप्ये व कीमती जेवरात निकाल लिए। जब शिकातयकर्ता ने इस बात का विरोध किया तो आरोपी उसके सिर में तलवार मारकर उसको घायल करके नगदी व जेवरात सहित मौका से फरार हो गए।

इस वारदात के संबंध में थाना असंध में मुकदमा नम्बर 319 दिनांक 04 मई 2023 धारा 342, 394, 452, 506, 34 भा.द.स. व शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया। बाद में शिकातयकर्ता ने अज्ञात आरोपियों द्वारा उसके घर से करीब 60 तोले सोने के जेवरात व 5.8 लाख रुपए लूट कर ले जाने बारे ब्यान किया था।

जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी वर्ष 2013 से चोरी व लूट जैसी वारदातों को अंजाम देने लग गए थे। आरोपी सुच्चा सिंह के खिलाफ करीब दो मामले, वजीर के खिलाफ हरियाणा व राजस्थान में करीब सात मामले, आरोपी दीपक उर्फ बाडा के खिलाफ हरियाणा के विभिन्न जिलों मेें करीब आठ मामले, आरोपी दीपक उर्फ गोनी के खिलाफ जींद में पांच मामले व आरोपी संदीप के खिलाफ जींद के विभिन्न थानों में करीब चार मामले चोरी करने के दर्ज हैं।

इन मामलों में आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं और इन मामलों में से अधिकतर मामलों में आरोपी जमानत पर बाहर चल रहे हैं। *आरोपियों को आज पेश अदालत किया गया और अदालत में आरोपियों की शिनाख्त परेड कराई गई। इस दौरान मुकदमे के शिकायतकर्ता द्वारा आरोपियों की पहचान की गई।

आरोपियों को पेश अदालत करके पांच दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। दौराने रिमाण्ड आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जाएगी। रिमाण्ड अवधि के दौरान आरोपियों के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल हथियार, मोटरसाईकिल व वारदात में लूटे गए जेवरात व नगदी को बरामद किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.