NDRI चौक से श्रीमद भगवत गीता द्वार तक बनेगी वॉकिंग स्ट्रीट , डिजाईन के अनुसार पैदल पथ , दिव्यांगों के लिए सुलभ रैम्प, लैंड स्केपिंग, 3-डी स्कल्पचर और एल.ई.डी. लाइट्स लगेंगी ,देखें पूरी खबर

1
Advertisement


करनाल स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट्ïस की श्रृंखला में, एक प्रोजेक्ट न्यूअली डव्ल्पिंग कल्चरल कॉरिडोर यानि नए विकासशील सांस्कृतिक गलियारे में वॉकिंग स्ट्रीट का भी है। पिछले दिनो लघु सचिवालय के सभागार में उपायुक्त एवं करनाल स्मार्ट सिटी लिमिटेड (के.एस.सी.एल.) के सीईओ निशांत कुमार यादव की अध्यक्षता में हुई एक बैठक में, स्मार्ट सिटी के प्रोजेक्ट मेनेजमेंट कंसल्टेंट की ओर से इसकी प्रपोजल सब्मिट की गई थी, जल्द ही विभागीय अनुमोदन के बाद इस पर काम शुरू होगा।

क्या है वॉकिंग स्ट्रीट – इस बारे के.एस.सी.एल. के सी.ई.ओ. निशांत कुमार यादव ने बताया कि महाराजा अग्रसेन चौक से बलड़ी बाईपास तक फैली छ: मार्गीय सड़क के पैदल पथ को डिजाईन के अनुसार लेवल से मरम्मत कर सजावटी टाईलें व कर्ब स्टोन लगाए जाएंगे।

Advertisement


इस पर मानक ढलानो और रेलिंग के साथ दिव्यांगों के लिए मैत्रीपूर्ण व सुलभ रैम्प बनाया जाएगा। डिजाईन के अनुसार ही पैदल पथ के किनारे पर बचाव रोक यानि हैजिंग लाईन से भू-सज्जा की जाएगी। एन.डी.आर.आई. के मुख्य गेट से आगे एक ओर एंट्री गेट के दोनो ओर सड़क किनारे 3-डी डिजाईन से मूर्ति कला विकसित की जाएगी और रोशनी के लिए 4 मीटर ऊंचे पोल पर एल.ई.डी. लाईटें लगेंगी।

उन्होंने बताया कि इस सड़क की 3 लोकेशन व नियमित अंतराल पर टेबल टॉक क्रॉसिंग बनाई जाएंगी, ताकि सड़क पार करने के लिए व्यक्ति एक साईड से दूसरी साईड पर जा सके। पर्याप्त मात्रा में, नो पार्किंग व टो अवे जोन को लेकर सावधानी और अनिवार्य ट्रैफिक चिन्ह दर्शाए जाएंगे।

पैदल पथ के साथ दोनो और थर्मोप्लास्ट पेंट के साथ साईकिल ट्रैक बनाए जाएंगे, जिस पर केवल आपातकाल को छोड़कर, वाहनो का प्रवेश वर्जित होगा। वॉकिंग स्ट्रीट पर दोनो ओर करीब 20 मीटर लम्बी एक दीवार बनाकर उस पर सुंदर पेंटिंग बनाई जाएगी, पेंटिंग का विकल्प एक पत्थर भी हो सकता है, जिस पर सांस्कृतिक मूर्ति को उत्कीर्ण किया जाएगा, फुटपाथ पर चलने वाले इनको निहार सकेंगे।

सीईओ ने बताया कि अग्रसेन चौक से बलड़ी बाईपास लिबर्टी चौक तक कल्चरल कॉरिडोर 1.8 किलोमीटर लम्बा होगा और यह नगर निगम की जगह पर बनाया जाएगा।

सीईओ ने बताया कि वॉकिंग स्ट्रीट पर प्रात: 5 से 8 बजे और सांय के समय 6 से 8 बजे तक वाहनो के लिए आवाजाही बंद रहेगी। स्ट्रीट पर ई-टॉयलेट रखे जाएंगे। सड़क किनारे खाली जगह पर उगी जंगली घास व खरपतवार की सफाई की जाएगी। वॉकिंग स्ट्रीट का प्रोजेक्ट पूरा हो जाने के बाद उस पर कुछ म्यूजिकल प्वाईंट बनाए जाने भी प्रस्तावि हैं। वॉकिंग स्ट्रीट से शहर विशेषकर इस रोड की सुंदरता में इजाफा होगा।






1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.