शहीद ए आजम भगत सिंह की याद में निकाली बाइक रैली

0
Advertisement

शेयर करें।
  • 121
  •  
  •  
  •  
  •  
    121
    Shares

( विकास मैहला ) करनाल शहीद भगत सिंह ब्रिगेड ने आज शहीद ए आजम भगत सिंह के जन्मदिवस के अवसर पर भगत सिंह को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग को बुलंद किया। ब्रिगेड के युवाओं ने भगत सिंह अमर रहे के नारे लगाते हुए माहौल को देशभक्तिमय बना दिया। युवाओं ने बाइकों व कारों पर शहर में रैली निकाल देशभक्ति का संदेश दिया। युवाओं ने सीटीएम को प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा, जिसमें मांग की गई कि भगत सिंह को शहीद का दर्जा दिया जाए। युवाओं के दिलों में देशभक्ति का जज्बा देखते ही बनता था।

Advertisement

बुधवार को सैंकड़ों की संख्या में युवा गांव कैलाश में एकत्रित हुए। जहां से बाइकों व कारों पर सवार होकर युवा करनाल के लिए रवाना हुए। शहर में शहीद ए आजम भगत सिंह के जन्मदिवस पर रैली निकालते हुए भारत माता की जय, भगत सिंह अमर रहे के नारे लगाए गए। सैंकड़ों की संख्या में युवा जिला सचिवालय पहुंचे और भगत सिंह को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग को लेकर प्रधानमंत्री के नाम सीटीएम को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर शहीद भगत सिंह ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष विनय पोसवाल ने कहा कि शहीदों की याद में शहीद संग्रहालय बनाया जाए। 1857 से 1947 तक जितने भी लोग देश के आजादी आंदोलन में शहीद हुए उनकी सूची तैयार की जाए।

शहीदों के नाम पर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित करवाई जाएं। शहीदों के नाम पर खेल स्टेडियम बनाए जाएं। पोसवाल ने कहा कि उन शहीदों के बलिदान को हम कभी नहीं भुला सकते, जिन्होंने देश की आजादी के लिए हंसते हंसते फांसी के फंदे को चूम लिया। युवाओं को शहीदों से प्रेरणा लेकर उनके आदर्शों को जीवन में आत्मसात करना चाहिए। असंध हलका प्रधान कारज रोखा ने कहा कि शहीदों की बदौलत हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं, उन शहीदों को हमेशा याद रखें। इस अवसर पर जिला उपाध्यक्ष नवीन लाठर, विकास आर्य, सुमित गुज्जर, श्रवण बब्बर, कारज रोखा, हरमन बल, दयाल सिंह कॉलेज प्रधान भूपेंद्र कांबोज, विपिन पोसवाल, जानपाल चीमा, जगगा चीमा, अवि चीमा सहित सैंकड़ों की संख्या में युवा शहीद भगत सिंह के सम्मान में एकत्रित हुए।


शेयर करें।
  • 121
  •  
  •  
  •  
  •  
    121
    Shares
Advertisement




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.