निसिंग किडनैपिंग मामले का खुलासा , हत्या कर शव फेंका, मुख्य आरोपी गिरफतार ,देखें पूरी खबर

0
Advertisement


करनाल दिनांक 29.12.19 को देर शाम करनाल पुलिस की थाना निसिंग में दषर्न लाल पुत्र दिवान चंद वासी निसिंग ने षिकायत दी कि आज सुबह उसके बेटे विष्व भारती उर्फ विसु को किसी ने किडनैप कर लिया है। इस संबंध में आज दोपहर बाद उनके पड़ोसी बुटा सिंह के मोबाईल पर एक अज्ञात नंबर से फोन आया कि पांच लाख रूपये दो वरना तुम्हारे बेटे की हत्या कर देगें।

जो उन्होंनें शाम के समय अपहरणकर्ता के बताए मुताबिक 2.50 लाख रूपये उनके द्वारा बताए गए स्थान पर दे दिए। लेकिन रूपये दिए भी काफी समय बित चुका है और अभी तक उनका बेटा न तो घर लौटा है और न ही उसके संबंध में किसी प्रकार की कोई सुचना प्राप्त हुई है। जिस संबंध में थाना निसिंग में मुकदमा नं0- 432/29.12.19 धारा 364-ए भा.द.स. के तहत दर्ज किया गया।

Advertisement


देर रात यह मामला जैसे ही पुलिस अधीक्षक करनाल श्री सुरेन्द्र सिंह भौरिया के संज्ञान में आया तो उन्होंनें मामले पर तुरंत कार्यवाही करते हुए, करनाल पुलिस की क्राइम युनिट सी.आई.ए-01 टीम के इन्चार्ज निरीक्षक दीपेन्द्र राणा को मामले की जांच सौपीं। दौरान जांच आज दिनांक 03.01.2020 की सुबह निरीक्षक दीपेन्द्र राणा की टीम द्वारा मामले के मुख्य आरोपी….. अमनदीप उर्फ अमन बाबा पुत्र सुखदेव सिंह वासी निसिंग को कस्बा पूण्डरी जिला कैथल से गिरफतार किया गया।

आरोपी से की गई पुछताछ पर उसने खुलासा किया कि दिनांक 29.12.19 को विसु के परिजनों से रूपये लेने के बाद ही उन्होंनें विसु की हत्या कर दी थी व शव नहर के पास फेंक दिया था। जो पुलिस टीम द्वारा उसकी निषानदेही पर विसु का शव पंजाब के पातड़ा-खिनौरी नहर के पास से बरामद किया।

आरोपी ने बताया कि वारदात में उसके साथ उसके दो साथी आरोपी….. राजेन्द्र उर्फ जींदा पुत्र शेर सिंह वासी गोंदर और रविन्द्र उर्फ बिन्द्र पुत्र धीरा वासी गोंदर भी शामिल थे। आरोपी ने बताया कि उसका साथी आरोपी…. रविन्द्र उर्फ बिन्द्र प्लान के तहत विसु को उसकी दूकान से किसी बहाने से बुलाकर साईड में लेकर आया था, जहां पर पहले से ही गाड़ी सहित मौजुद राजेन्द्र उर्फ जींदा व मैने उसे किडनैप कर गाड़ी में डाल लिया था।

उसके बाद हमने गांव कौल से पबनावा जाते समय एक भठृठे के मजदूर से फोन छीन लिया था और उससे फोन करके विसु के परिजनों से रूपये की मांग की थी। आरोपीयों द्वारा वारदात में प्रयोग की गई गाड़ी को उन्होंनें कुछ दिन पहले ही वारदात को अंजाम देने के लिए कस्बा चीका जिला कैथल से हथियारों के बल पर छीना गया था, जिस संबंध में जिला कैथल के चीका थाना में उनके खिलाफ मामला दर्ज है।

आरोपी को कल माननीय अदालत के सामने पेषकर पुलिस रिमांड हासिल किया जाएगा व उसके साथीयों को गिरफतार किया जाएगा व वारदात के संबंध में आगे जांच की जाएगी।

इस संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस कप्तान ने कहा कि बड़े दुख की बात है कि पुलिस के अथक प्रयासों के बाद भी पुलिस विसु को नहीं बचा पाई, क्योंकि पुलिस को सुचना मिलने में काफी देरी हुई है। पुलिस को सुचना मिलने से पहले ही आरोपीयों द्वारा विसु की हत्या को अंजाम दे दिया गया था।

उन्होंनें अपील करते हुए कहा कि यदि आपके साथ कोई अप्रिय घटना घटती है तो इस संबंध में तुरंत पुलिस को सुचना दें, क्योंकि पुलिस आपकी सेवा, सुरक्षा और सहयोग के लिए हर समय आपके साथ है। यदि विसु के किडनैपिंग के संबंध में पुलिस को समय रहते जानकारी मिलती तो शायद पुलिस द्वारा विसु को बचाया जा सकता था।






LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.