एनआरएचएम कर्मचारियों की हड़ताल के मद्देनजर धारा 144 के अन्तर्गत असामाजिक तत्वों की गतिविधियों को रोकने के लिए आदेश जारी किये हैं।

0
Advertisement
जिलाधीश डा0 आदित्य दहिया ने एनआरएचएम कर्मचारियों की हड़ताल के मद्देनजर जिला में शान्ति एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए आपराधिक अधिनियम 1973 की धारा 144 के अन्तर्गत असामाजिक तत्वों की गतिविधियों को रोकने के लिए आदेश जारी किये हैं।
आदेश में कहा गया है कि जिला में एनआरएचएम कर्मचारियों की हड़ताल के दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा सरकारी व गैर सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाए जाने की सम्भावना, कानून एवं शान्ति व्यवस्था की स्थिति बिगडने तथा चिकित्सा सुविधाओं के बाधित होने की आशंका को देखते हुए किसी भी व्यक्ति के चिकित्सा संस्थानों के परिसर में घातक हथियारों को लेकर चलने पर पाबन्दी रहेगी। साथ ही करनाल के सरकारी चिकित्सा संस्थान जैसे सिविल सर्जन कार्यालय व कल्पना चावला राजकीय मैडिकल कॉलेज के एक किलोमीटर के दायरे के अन्दर  चार या चार से अधिक व्यक्ति एक स्थान पर इक्कठे खड़े नहीं होंगे तथा किसी भी प्रकार की जनसभा व धरना प्रदर्शन करने पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। यह आदेश डयूटी पर तैनात पुलिस व अन्य कर्मचारियों पर लागू नहीं होगे। आदेशों की अनुपालना ना करने वाले व्यक्ति पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 के तहत कानूनी कार्यवाही की जाएगी।  ये आदेश तुरन्त प्रभाव से लागू होकर हड़ताल खत्म होने तक जारी रहेगे।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा प्रदेश में आयुर्वैदिक चिकित्सालय को बढ़ावा देने के लिए करनाल जिला के भवनों निर्माण व मरम्मत कार्य पर करीब 75 लाख रुपये खर्च किए गए तथा करनाल के सैक्टर 6 में सामुदायिक केंद्र के योग एवं पंचकर्म सेंटर को राजकीय आयुर्र्वैदिक चिकित्सालय कुरलन में शिफ्ट किया गया।
उपायुक्त डा0 आदित्य दहिया ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा जिला करनाल में 13 राजकीय आयुर्र्वैदिक चिकित्सालय के भवनों का निर्माण तथा मरम्मत करवाई गई ताकि लोगों को समय पर उचित चिकित्सा सुविधा मुहैया करवाई जा सकें। उन्होंने बताया कि असंध खंड के गांव अरडाना में करीब एक लाख 27 हजार रुपये तथा खेडी शर्फअली में 2 लाख 30 हजार रुपये की लागत से चिकित्सालय भवन की मरम्मत की गई। घरौंडा खंड के गांव कैमला में करीब एक लाख 92 हजार, बरसत में करीब 11 लाख 46 हजार रुपये, अराईपुरा में करीब 2 लाख 60 हजार रुपये की लागत से चिकित्सालय भवनों की मरम्मत की गई। इन्द्री खंड के गांव गढ़ी बीरबल में करीब 2 लाख रुपये, रंदौली गांव में करीब 7 लाख 14 हजार, डबकोली गांव में करीब 8 लाख 57 हजार रुपये, शाहपुर में करीब 12 लाख रुपये तथा चौगामा में करीब 3 लाख 98 हजार रुपये से राजकीय आयुर्र्वैदिक चिकित्सालय की मरम्मत करवाई गई।
उन्होंने बताया कि इसी प्रकार करनाल खंड के गांव रम्बा में करीब 2 लाख 44 हजार रुपये, नीलोखेडी खंड के गांव सांवत में करीब 2 लाख रुपये व बडथल में करीब एक लाख 71 हजार रुपये की लागत से राजकीय आयुर्र्वैदिक चिकित्सालय भवन की मरम्मत का कार्य करवाया गया। उन्होंने बताया कि लोगों की सुविधा के लिए करनाल के सैक्टर 6 में सामुदायिक केंद्र के योग एवं पंचकर्म सेंटर को राजकीय आयुर्र्वैदिक चिकित्सालय कुरलन में शिफ्ट किया गया है।
Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.