बच्चों के प्रति घटने वाले किसी भी प्रकार के अपराध व लापता बच्चे की सूचना चाईल्ड हैल्प लाईन नम्बर 1098 पर पहुंचाना सुनिश्चित करें – उमेश चानना

0
Advertisement

करनाल 10 नवम्बर, बच्चे बेहद कोमल होते है और इन्हें हमेशा मां-बाप के कोमल स्पर्श जैसी देखभाल की आवश्यकता रहती है। बचपन मां-बाप के साए में पले बढ़े, इसी में देश का उज्जवल भविष्य सम्माहित है। मां-बाप के साथ-साथ समाज का भी यह दायित्व बनता है कि बच्चों के साथ किसी भी प्रकार का दुव्र्यव्हार ना हो और उनके साथ आए दिन घटने वाले अपराधों के प्रति समाज संवेदनशील बने।

बच्चों को इसी प्रकार का वातावरण देने के लिए जिले की बाल कल्याण कमेटी प्रयासरत है। यह कमेटी जिसके चेयरमैन उमेश कुमार चानना ना केवल अब तक दो दर्जन से अधिक लापता हुए बच्चों को उनके परिवार से मिलवा चुके है बल्कि बच्चों के प्रति घटने वाले अपराधों के प्रति भी अपनी जिम्मेवारी पूरी निष्ठा और ईमानदारी से निभा रहे है। ऐसा ही एक कत्र्तव्य उन्होंने रविवार को लगभग 20 दिन से लापता हुई रेनू को उसके परिवार से मिलवाकर निभाया, जो अपने माता-पिता से नाराज होकर गत 22 अक्तूबर को मुंबई चली गई थी।

Advertisement


पंद्रह वर्षीय रेनू मुंबई में बाल श्रमिक के तौर पर घरों में काम करने लग गई थी। मकान मालकिन द्वारा डांटने पर यह बदलापुर क्षेत्र के थाने पहुंची। पुलिस द्वारा काफी पूछताछ के बाद करनाल का जिक्र करने पर करनाल क्राईम ब्रांच से सम्पर्क किया गया और दूसरी तरफ करनाल क्राईम ब्रांच भी कई दिनों से विभिन्न राज्यों से रेनू के बारे सूचना एकत्रित करने में लगा था। रेनू का पता चलने पर करनाल से एंटी हुमन ट्रैफिकिंग यूनिट को मुंबई रवाना किया गया, जो रेनू को लेकर करनाल पहुंची।

चेयरमैन उमेश कुमार चानना ने बताया कि रविवार को रेनू को उसके परिवार से मिलवा दिया गया है। परिवार में पिता छेदू राम सहित सभी सदस्य रेनू से मिलकर काफी खुश थे। चेयरमैन ने आमजन से अपील की कि बच्चों को कभी भी अकेला ना छोड़े, हमेशा उनके उपर नजर बनाए रखे। उन्होंने यह भी कहा कि बच्चों के प्रति घटने वाले अपराधों जैसे बाल श्रम तथा बाल यौन शौषण जैसे अन्य अपराधों में निरतंर बढ़ौत्तरी हो रही है।

हमें इस ओर विशेष ध्यान देने की जरूरत है और अपने बच्चों को भी इस बारे में बताने की आवश्यकता है। हमें अपने आस-पास घटित होने वाले अपराधों पर भी सजग रहने की जरूरत है ताकि बच्चों को सुरक्षित वातावरण दिया जा सके। इस मौके पर कमेटी के सदस्य चंद्र प्रकाश, शोभना चौधरी, सीमा राणा, मीना काम्बोज, कांउसलर यशोदा, एंटी हुमन ट्रैफिकिंग यूनिट से इंस्पेक्टर रामजीत, हैड कांस्टेबल विनोद सहित रेनू का परिवार उपस्थित रहा।

चेयरमैन उमेश चानना ने आमजन से अपील की है कि बच्चों के प्रति घटने वाले किसी भी प्रकार के अपराध व लापता बच्चे की सूचना चाईल्ड हैल्प लाईन नम्बर 1098 पर पहुंचाना सुनिश्चित करें ताकि पीडि़त बच्चों की समय पर मदद की जा सके।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.