July 25, 2024

करनाल/कीर्ति कथूरिया :  पति और पुत्र की सलामती तथा दीर्घायु की कामना के साथ महिलाओं ने सोमवार सुबह उदय होते सूर्य को अघ्र्य देकर अपने व्रत का पारायण किया। पश्चिमी यमुना नहर पर श्रद्धा का सैलाब उमड़ पड़ा। बड़ी संख्या में महिला-पुरुष पूजन सामग्री लेकर यहां जमा हो गए।

महिलाओं ने नदी के अंदर घुटनों-घुटनों तक पानी में खड़े होकर उदयाचल सूर्य को अघ्र्य देकर भगवान सूर्यदेव की अराधना की। महिलाओं ने नदी में कई गन्नों को एक में जोड़ कर छत्र बनाया और दीपदान किया। सूर्य देव को मौसमी फलों, फूलों, नारियल तथा पकवानों का भोग लगाया। महिलाओं के साथ पुरुषों ने भी सूर्य देव को अघ्र्य दिया।

कई परिवारों ने पूरी रात ही यहां बिताई और भजन कीर्तन करने के बाद सुबह सूर्य देव की अराधना की और व्रत का पारायण करने के बाद अपने घरों को वापस गए। पूजा समापन के बाद उपवासी महिलाओं ने अपने रिश्तेदारों और मिलने जुलने वाले लोगों में प्रसाद का वितरण किया।

छठ पर्व पर श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं देने और पूजा में हिस्सा लेने के लिए शहर के तमाम लोग भी यहां मौजूद रहे। पश्चिमी यमुना नहर किनारे मेले जैसा माहौल दिखाई दिया। छठ पर्व सेवा समिति मंडल के प्रधान सुरेश कुमार यादव ने कार्यक्रम के सफल आयोजन पर लोगों को बधाई दी।

उन्होंने जिला प्रशासन सहित व्यवस्था कायम रखने में योगदान देने वाले सभी विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों का आभार व्यक्त किया। मंडल की ओर से सूर्य मंदिर और पश्चिमी यमुना नहर के चारों ओर श्रद्धालुओं के लिए खास व्यवस्था की गई थी।

इस अवसर पर प्रधान सुरेश कुमार यादव, अर्जुन पंडित, उमेश चौहान, जंग बहादुर यादव, सुधीर यादव, रामदयाल यादव, शत्रुघन राय, राम सागर, राम बहादुर, भोला राय, रोहित कुमार, भूषण यादव, अरविंद, दिवाकर, नंद किशोर, दिलीप कुमार, विशिष्ट पंडित, रामू पंडित, सिकंदर मेहता, अश्विनी मिश्रा, रामविलास यादव, राजेश्वर, संजीव कुमार, राम सकल, अशोक कुमार, संजय, जगदीश, उमेश, राम प्रवेश, घणश्याम, राम सोगारथ, राम नारायण, रामू पंडित, बोध नारायण, मोहन मेहता, नागेंद्र व जितेंद्र मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.