समापन कार्यक्रम में बोले एडीसी निशांत यादव : पहली बार महसूस हुआ कि हमारी टीम के प्रयास रंग ला रहे है

0
Advertisement



करनाल: करनाल परिवहन विभाग की टीम ने 30वें सड़क सुरक्षा सप्ताह को सफल बनाने के लिए बेहतरीन कार्य किया है।प्रशासन के अभियान में आम जनता का जुड़ना इस बात का प्रमाण है।सरकार द्वारा सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाने के लिए हमें सालाना 25 लाख रुपये का बजट भी दिया जा रहा है जिसके चलते हम सशक्त होकर बेतरीन कार्य करने में सक्षम है।

उक्त शब्द आज करनाल शुगर मिल में ट्रेक्टर ट्रालियों पर रिफ्लेक्टर टेप लगाने पहुंचे एडीसी व आरटीए करनाल निशांत यादव ने कहे।यादव परिवहन विभाग के कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में पहुंचे थे तथा कार्यक्रम अनुसार उन्होंने कई ट्रेक्टर ट्रालियों पर खुद रिफ्लेक्टर टेप लगाकर वाहन चालकों को सुरक्षित वाहन चलाने के टिप्स दिए।

Advertisement


युवा आईएएस अधिकारी निशांत यादव ने कहा कि हर वर्ष जिस तरह सड़क हादसों में वृद्धि हो रही थी उसे देखते हुए सड़क सुरक्षा सप्ताह जैसे कार्यक्रमो को और अधिक संख्या में मनाए जाने की आवश्यकता है क्योंकि अब समाज में लोगो को जागरूक करके ही तेजी से बढ़ रहे सड़क हादसों पर लगाम लगाई जा सकती है।

उन्होंने 30वें सड़क सुरक्षा सप्ताह के संयोजक सहायक सचिव सतीश जैन व इंस्पेक्टर जोगेंद्र ढुल को सफल कार्यक्रम के लिए बधाई भी दी। 

यादव ने कहा कि हरियाणा सरकार ने हमें स्वतंत्र रूप से काम करने की छूट दी है इसलिए हमने पिछले लंबे समय से सरकार के खजाने में करोड़ो रूपये का राजस्व जुर्माने के रूप में जमा करवाया है।ओवरलोड वाहन चालकों को चेतावनी देते हुए यादव ने कहा कि किसी भी सूरत में ओवरलोड वाहनों को चलने नहीं दिया जाएगा।

वहीं मीडिया द्वारा पूछे गए सवाल में एडीसी व आरटीए निशांत यादव ने साफ कर दिया कि सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी के आदेशानुसार 10 साल से अधिक पुराने डीजल और 15 से अधिक पुराने वाहनों को इम्पाउंड किया जाएगा।उन्होंने कहा कि करनाल परिवहन विभाग या वाहन पंजिकरण कार्यालय में इन वाहनों का नवीनीकरण नहीं किया जा रहा।इस कार्यक्रम में बतौर विशिष्ट अतिथि पहुंचे नगर निगम करनाल के डिप्टी म्युनिसिपल कमिश्नर धीरज कुमार ने भी परिवहन विभाग द्वारा चलाये गए अभियान की तारीफ की तथा लोगो को सुरक्षित ढंग से वाहन चलाने की नसीहत दी।

इस मौके पर करनाल ट्रैफिक पुलिस के उप निरीक्षक सुरेन्द्र कुमार, सहायक उप निरीक्षक अशोक कुमार, एसपी करनाल के सब इंस्पेक्टर सुरेश पुनिया, परिवहन विभाग के सहायक सचिव सतीश जैन, इंस्पेक्टर जोगेंद्र ढुल, उप निरीक्षक रविन्द्र कुमार, प्रोफेसर बीर सिंह, आरएसओ की तरफ से रमन मिड्डा, सोनू बत्तरा सहित बड़ी संख्या में करनाल के जाने माने लोग मौजूद रहे।

Advertisement



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.