Advertisement


करनाल के एसडीएम योगेश कुमार ने कहा कि भारत एक महान् देश है। यहां का इतिहास बेहद गौरवशाली रहा है। यह देश अपने अंदर ऐसी कई संस्कृतियां समेटे हुए है, जिसने भारत को विश्व मेें सबसे समृद्ध संस्कृति वाला देश बनाया है।
एसडीएम शनिवार को स्थानीय पंचायत भवन में आयोजित हरियाणा वीर एवं शहीदी दिवस के अवसर पर बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। इससे पहले एसडीएम ने शहीदों के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें अपनी श्रद्धाजंलि दी। एसडीएम ने अपने सम्बोधन में कहा कि भारत उन वीरों की कर्मभूमि  रही है, जिन्होंने अपने प्राणों की परवाह किए बिना इस देश के लिए अनेक महान कार्य किए हैं। हरियाणा के वीर भी अपने वतन की रक्षा के लिए प्राणों का बलिदान देने से कभी पीछे नहीं हटे। आज़ादी के बाद भी हमारे वीर सैनिकों ने सीमाओं पर हमारी हिफ ाजत के लिए अपने प्राणों को दांव पर लगाया।
एसडीएम ने स्वतंत्रता सेनानी राव तुला राम के जीवन पर बोलते हुए कहा कि वे  प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के प्रमुख नेताओं में से एक थे।  विद्रोह काल में हरियाणा के दक्षिण.पश्चिम इलाके से सम्पूर्ण बिटिश हुकूमत को अस्थायी रूप से उखाड़ फेंकने तथा दिल्ली के ऐतिहासिक शहर मे विद्रोही सैनिको की सैन्य बल,धन व युद्ध सामाग्री से सहायता प्रदान करने का श्रेय राव तुलाराम को जाता है।
एसडीएम ने वीर शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि आज वीर शहीदों वजह से सुख चैन की सांस ले रहे हैं । उन्होंने शहीदों के परिवार के सदस्यों को नमन करते हुए कहा कि आपने अपने घर के चिराग,अपने पति, भाई, पिता को देश की रक्षा के लिए खोया है, उन्होंने सभी का आह्वान किया कि हम संकल्प लें कि देश की सुरक्षा व अखंडता को बनाए रखेंगे तथा देश की सुरक्षा के लिए सदैव तत्पर रहेंगे। उन्होंने शहीदों के परिवारों को कहा कि आपको अगर कोई भी समस्या हो तो उस समस्या का समाधान के लिए जिला प्रशासन सदैव तैयार रहेगा। एसडीएम ने पंचायत भवन में आयोजित कार्यक्रम से पहले शहीदी स्मारक पर जाकर शहीदों को अपनी श्रद्धाजंलि दी।
इस मौके पर सीटीएम डा० अनुपमा ने शहीदों को अपनी श्रद्धांजलि दी तथा अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि हरियाणा वीरों की धरती है, इतिहास के कई पन्ने ऐसे हैं जो शहीदों की वीर गाथाओं से सुशोभित है। कार्यक्रम में जिला सैनिक बोर्ड के सचिव कर्नल रविन्द्र सिंह ने शहीदों की वीर गाथाओं के बारे में विस्तार से बताया। हरियाणा वीर एवं शहीदी दिवस कार्यक्रम के अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा शहीदों के सम्मान में रैली भी निकाली गई। कार्यक्रम में एसडीएम ने करीब 22  युद्ध वीरांगनाओं को स्मृति चिन्ह देकर भी सम्मानित किया। इस मौके पर खंड शिक्षा अधिकारी सपना जैन,  छात्रा पूजा, सुनीता, प्रिया, अंजली तथा सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के कलाकारों ने शहीदों के सम्मान में गीत, भाषण तथा कविताएं प्रस्तुत की। इस मौके पर नगरनिगम के ईओ धीरज कुमार, तहसीलदार श्याम लाल, नायब तहसीलदार राजबख्श, एआईपीआरओ बलराम शर्मा सहित सम्बन्धित  विभागों के अधिकारी तथा शहीदों के परिवार के सदस्य मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.