आपदा से बचाव के लिए संयम और आत्मविश्वास की जरूरत:-ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह

0
Advertisement

प्राकृतिक आपदा के समय अधिकारी अपनी-अपनी जिम्मेदारियों को और बेहतरीन ढंग से कैसे निभा सकते है,के विषय को लेकर शुक्रवार को स्थानीय पंचायत भवन मेें मंडल स्तरीय एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया,जिसमें ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह प्रशिक्षक थे। प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ उपायुक्त डा०आदित्य दहिया ने किया।
इस अवसर पर उपायुक्त डा०आदित्य दहिया ने कहा कि प्राकृतिक आपदा का कोई समय व स्थान निश्चित नहीं होता और ना ही यह बताकर आती है। ऐसी परिस्थितियों से निपटने के लिए हमें सजग रहने की जरूरत है। जिला प्रशासन,राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग करनाल एवं हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान की ओर से प्राकृतिक आपदा से बचाव,बाढ़ राहत कार्यो के बारे में समय-समय पर अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिलवाया जाता है। इतना ही नहीं मॉक ड्रिल भी करवाई गई है। इसी कड़ी में आज मंडल स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित सभी अधिकारियों का आह्वान किया कि वे आपदा प्रबंधन के विषय के बारे में प्रशिक्षक द्वारा जो जानकारी दी जाए,उसे गहन रूचि लेेकर ग्रहण करें और उसके बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक करें। सेक्टर-12 के मैदान में 21 दिसम्बर को मॉक ड्रिल आयोजित की जाएगी।
इस मौके पर ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह ने आपदा प्रबंधन के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि  किसीभी आपदा से निपटने के लिए संयम और आत्मविश्वास की जरूरत होती है,आपदा के समय जो यंत्र समय पर मिल जाए,उसी का प्रयोग कर लेना चाहिए। आपदा के समय यदि निर्धारित यंत्र  की खोज करने की कोशिश की गई तो घटना समय का इंतजार नहीं करती। उन्होंने उपस्थित सभी श्रोताओं को हर परिस्थिति में सचेत रहने की जानकारी दी।
कार्यक्रम में एडीसी निशांत कुमार,एसडीएम घरौंडा मो० इमरान रजा,एसडीएम नरेन्द्र पाल मलिक, डीआरओ राजबीर धीमान,आर.ओ सौरिश सिंगला,पानीपत नगर निगम के आयुक्त,आर ओ पानीपत,सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।
Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.