लोगों की सोच में स्वच्छता को लेकर बदलाव आना एक अच्छा कदम : रामफल सिंह

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

स्वच्छता को लेकर लोगों की सोच तथा व्यवहार में परिवर्तन आना स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत के निर्माण में अच्छा संकेत है। लोगों की मानसिकता जब तक नहीं बदलती तब तक स्वच्छता की परिकल्पना को साकार नहीं किया जा सकता। अब धरातल पर लोग यह समझने लगे है कि स्वच्छता क्यों जरूरी है तथा उनके जीवन में स्वच्छता का महत्व है। उपरोक्त शब्द पंचायती राज के कार्यकारी अभियंता रामफल सिंह ने  विश्व शौचालय दिवस के अवसर पर सोमवार को स्थानीय पंचायत भवन करनाल में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की ओर से जिला स्तर पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान कहे।

उन्होंने इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरक्त करते हुए स्वच्छाग्रहियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि स्वच्छता एक ऐस पावन यज्ञ है जिसमें प्रत्येक व्यक्ति की आहुति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण की टीम व स्वच्छाग्राहीयों ने खुले में शौच मुक्त अभियान के दौरान उत्कृष्ट कार्य किया  जिसकी बदौलत हमारा जिला उत्तरी जोन तथा प्रदेश भर में तीसरे तथा सम्पूर्ण भारतवर्ष में 7वें स्थान पर रहा। इस कार्य के लिए यह सभी बधाई के पात्र है।

Advertisement


इस अवसर पर स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के जिला कार्यक्रम प्रबन्धक राजकुमार सन्धु ने कहा कि प्रत्येक स्वच्छाग्राही अपने-अपने गांव में जाकर ग्रामीणों को जागरूक करें कि वह घर में बने व्यक्तिगत शौचालय का शत-प्रतिशत उपयोग करें। इस प्रकार के प्रयासों से ही खुले में शौच मुक्ति की निरंतरता को कायम रखा जा सकता है। उन्होंने स्वच्छाग्राहियों से अपील की कि वह ग्रामीणों को जिनके घरों में सैप्टिक टैंक व एक गड्ढे वाला शौचालय है उन परिवारों को दो गड्ढों वाले शौचालय में परिवर्तित करने के लिए प्रेरित करें।

इस दौरान स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के ईचार्जं नरेश कुमार ने स्वच्छता ग्राहियों को ठोस कूडे-कचरे के उचित प्रबन्धन बारे ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए अपील की ताकि ग्रामीण क्षेत्र में स्वच्छता को कायम रखा जा सके। उन्होंने कहा कि गांवो में पड़े बड़े-बड़े गंदगी के ढेर तथा कुरडियां स्वच्छता पर एक बड़ा ग्रहण है, इसके निपटान हेतू ग्रामीणों को अपने गांव के प्रति जिम्मेवारी समझाते हुए ज्यादा से ज्यादा श्रमदान के लिए प्रेरित करें।

इस अवसर पर स्वच्छाग्राहियों को स्वच्छता की शपथ दिलवाई गई तथा उत्कृष्ट कार्य करने वाले स्वच्छाग्रहियों निशा चौहान, कोमल, वीना रानी, कुसुम देवी, उषा रानी, मुकेश रानी, सुदेश कुमारी, उर्मिला देवी, निशा रानी, सोनिया, राधा, ज्योति, ममता, सुनीता, काफी, खुशी, राहुल, सुनीता रानी, रोहताश अग्रवाल तथा रामफल को सम्मानित किया गया।

इस दौरान स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के सहायक समन्वयक तकनीकी, राजीव कुमार शर्मा, सुखदेव चौहान कार्यालय सहायक, विकास चोपडा, प्रदीप कुमार, पूर्णचंद सैनी खण्ड कार्यक्रम प्रबन्धक, विकास गुप्ता इत्यादि मौजूद रहे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.