विज्ञान और तकनीकी के अविष्कारों ने भारत को बनाया विश्वगुरू : डॉ. रामपाल सैनी

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डीएवी पीजी कॉलेज के फिजिक्स विभाग की ओर से बीएससी और कंप्यूटर साइंस के विद्यार्थियों की भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में कन्या भ्रूण हत्या, डिजीटल इंडिया, नैनो टेक्नोलॉजी, बेरोजगारी, पर्यावरण प्रदूषण विषय पर विद्यार्थियों ने अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में कॉलेज प्राचार्य डॉ. रामपाल सैनी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।

Advertisement


फिजिक्स विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो. रू‌चि खुराना और प्रो. सपना मैहला ने प्राचार्य का पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। प्राचार्य ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि विज्ञान और तकनीकी के अविष्कारों ने भारत को विश्वगुरू के रूप में उभारा है। उन्होंने कहा कि विज्ञान के छोटे छोटे प्रयोगों को सीखकर ही विद्यार्थी बड़े बड़े अविष्कारों तक पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि भारत को दुनिया में डिजीटल इंडिया और कैशलेस इंडिया एक विशेष पहचान दिलाएगा। यह सब विज्ञान के कारण ही संभव हुआ है।

उन्होंने विद्यार्थियों को नवीन खोजों, सृजनात्मकता, सुक्ष्म प्रयोगों की ओर बढ़कर रोजगार प्राप्ति के लिए प्रेरित किया। फिजिक्स विभाग की विभागध्यक्ष प्रो. रूचि खुराना ने कहा कि विद्यार्थियों को इस प्रकार की प्रतियोगिताओं में बढ़चढ़ कर भाग लेना चाहिए, क्योंकि यह प्रतियोगिताएं विज्ञान के विद्यार्थियों में नवीन विचार लेकर आती हैं।

प्रो. खुराना ने कार्यक्रम की सफलता पर सभी का धन्यवाद किया।  प्राचार्य डॉ. सैनी ने सभी विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम में निर्णायक की भूमिका डॉ. अमरीश अग्रवाल, प्रो. रमा गर्ग, प्रो. शिवानी ने निभाई। इस अवसर पर डॉ. जितेंद्र चौहान, प्रो. ममता, प्रो. मनू, प्रो. प्रियंका सहित अन्य मौजूद रहे।

————————————-
ये रहे परिणाम
स्थान     ः      नाम                    कक्षा                                            विषय
प्रथम     ः    कशिश          :   बीएससी प्रथम                             :    कन्या भ्रूण हत्या
द्वितीय   ः   दीपा गुलाटी     :   बीएससी फाइनल                        :    कन्या भ्रूण हत्या
तृतीय    ः   विशाल आर्य    :   बीएससी प्रथम                             :    बेरोजगारी
सांत्वना  ः   साहिल रॉय     :   बीएससी कंप्यूटर सांइस  द्वितीय      :    डिजीटल इंडिया

सांत्वना  ः   धैर्या               :   बीएससी कंप्यूटर साइंस प्रथम         :    कन्या भ्रूण हत्या

शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.