ई-चालानिंग के ज़रिए लगेगी ओवरलोड वाहनों पर रोक, 330 अधिकारीयों को सौंपी ज़िम्मेदारी

0
Advertisement


शेयर करें।
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

करनाल (भव्य नागपाल): ज़िले में बढ़ते ओवरलोड वाहनों के हादसों के बीच सरकार का एक बड़ा फैसला सामने आया है। ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने के लिए सिटी में 6 जगह नाके लगाए जाएँगें और वज़न करवाकर ई-चालानिंग के ज़रिए ऐसे वाहनों के चालान किए जाएँगें। हालांकि यह प्लान समय से लेट है जो कि 6 दिसंबर से शुरू हो जाना था, उसके लिए प्रशासन 4 या 5 जनवरी से मंगलौरा पुल से नाका लगाने की शुरूआत करेगी। बाकि बचे पाँच नाकों को लेकर अभी तैयारी चल रही है। नाका लगने वाले इलाकों में इंद्री-लाडवा रोड़, माईनिंग ज़ोन के बहलोलपुर और फरीदपुर गाँव, रेलवे स्टेशन माल ढुलाई गेट आदि शामिल हैं। इन नाकों को लेकर मंगलवार को 60 इंचार्जों को ट्रेनिंग दी गई और 330 अधिकारीयों की लिस्ट फाइनल की गई। 60 कर्मचारियों को चालान भरने की प्रक्रिया और किस आधार पर चालान की राशि तय करें इसकी ट्रेनिंग दी जा रही है। पूरे हरियाणा में ओवरलोड वाहनों पर अंकुश लगाने के लिए करनाल से शुरूआत की जा रही है जिसके चलते एडीसी निशांत कुमार यादव को नोडल अधिकारी बनाया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक प्रत्येक नाके पर तकरीबन 11 सदस्यों की टीम 24 घंटे तैनात रहेगी।


शेयर करें।
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.