May 22, 2024

करनाल/कीर्ति कथूरिया :  नौवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन को लेकर तैयारियां शुरू हो गई हैं। बुधवार को अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. वैशाली शर्मा ने मुख्य आयोजनकर्ता आयुष विभाग और अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ लघु सचिवालय के सभागार में एक बैठक कर जिला में होने वाले योग कार्यक्रमो पर चर्चा कर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अंतरराष्टï्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आगामी 29 मई से शारीरिक शिक्षा/पी.टी.आई. व डी.पी.आई. को प्रशिक्षण देने जैसे कार्यक्रम शुरू हो जाएंगे।

इसके तहत 19 जून को मुख्य कार्यक्रम के लिए पायलट रिहर्सल और योगा मैराथन का आयोजन किया जाएगा। जबकि 21 जून को जिला स्तरीय योग दिवस कार्यक्रम, शहर की नई अनाज मंडी में आयोजित किया जाएगा। इसके साथ-साथ जिला के सभी खंड मुख्यालयों पर भी योगा कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे यह होंगे कार्यक्रम- मीटिंग में अतिरिक्त उपायुक्त ने जानकारी दी कि 29 मई से 31 मई 2023 तक जिला के स्टेडियम, योग व्यायाम शालाओं व अन्य उपयुक्त स्थानों पर, सरकारी व प्राईवेट स्कूलों के शारीरिक शिक्षा अध्यापक व डी.पी.आई. को आयुष विभाग के योग विशेषज्ञों, योग समिति शिक्षक तथा खेल विभाग के योग प्रशिक्षकों द्वारा योगा प्रशिक्षण दिया जाएगा।

यह कार्यक्रम सभी खंड स्तर पर भी आयोजित किए जाएंगे। समय प्रात: 6 से साढे 7 बजे तक रहेगा। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार 5 से 7 जून को जिला के सभी स्कूलो में, आयुष विभाग के योग विशेषज्ञों, योग समितियों के शिक्षक, खेल विभाग के योगा ट्रेनर व पुलिस विभाग के प्रशिक्षित योग प्रशिक्षकों द्वारा पी.टी.आई. व डी.पी.आई. को प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसके पश्चात 9 जून से 11 जून को जिला तथा ब्लॉक स्तर के प्रशासनिक अधिकारी, भिन्न-भिन्न विभाग के अधिकारी एंव कर्मचारी, पंच, सरपंच, निर्वाचित सदस्य, एन.सी.सी. कैडेट एवं इच्छुक जन साधारण को आयुष विभाग के विशेषज्ञों तथा योग समिति के शिक्षकों द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इसके अतिरिक्त 14 से 16 जून को जिला स्तर पर मंत्रीगण, सांसद, विधायक, प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस सहित सभी विभागों के अधिकारी, नेहरू युवा केन्द्र का स्टाफ तथा इच्छुक जन साधारण के लिए भी प्रशिक्षण कार्यक्रम रखा गया है, जो आयुष विभाग के योग विशेषज्ञ, योग समिति के शिक्षकों द्वारा दिया जाएगा। यह कार्यक्रम शहर के किसी पार्क या उपयुक्त स्थान पर किए जाएंगे।

अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि 19 जून को जिला स्तरीय मुख्य कार्यक्रम के लिए पायलेट रिहर्सल होगी और इसी दिन योगा मैराथन का आयोजन किया जाएगा, जिसमें स्कूल, कॉलेज, जन साधारण, योग संस्थानों के प्रतिनिधि, पुलिस कर्मचारी, नेहरू युवा केन्द्र, स्काउट्स एवं गाईड हिस्सा लेंगे। स्कूली बच्चे अपने हाथो में योगा स्लोगन के बैनर व तख्ती लेकर चलेंगे। मैराथन का रूट बलड़ी बाईपास पर श्रीमद् भगवद् गीता द्वार से कर्ण स्टेडियम तक प्रस्तावित किया गया है। पायलट रिहर्सल व योगा मैराथन का समय प्रात: 7 से 8 बजे तक रहेगा। एसडीएम करनाल इस कार्यक्रम के नोडल अधिकारी होंगे, जबकि जिला आयुर्वेद अधिकारी, डीईओ तथा जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी कॉर्डिनेट करेंगे।

उन्होंने बताया कि 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम का आयोजन शहर की नई अनाज मंडी में आयोजित करना प्रस्तावित किया गया है। इसमें दो से तीन हजार प्रतिभागी शामिल होंगे, जिनमें शिक्षा विभाग के बच्चे, आई.टी.आई. व पोल्टैक्निक के विद्यार्थी, योग संस्थाएं, खेल विभाग, आयुष विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग से प्रतिभागी आएंगे। इस कार्यक्रम के नोडल भी उपमण्डल अधिकारी करनाल होंगे। खंड स्तर पर सम्बंधित बीडीपीओ और उपमंडल स्तर पर सम्बंधित एसडीएम उपरोक्त सभी कार्यक्रमो के नोडल रहेंगे।

यह दिए निर्देश- बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त ने उपरोक्त कार्यक्रमो में कानून व्यवस्था एवं पार्किंग के समूचित प्रबंधों के लिए उप पुलिस अधीक्षक वीर सिंह को निर्देश दिए। एम्बूलेंस व आपात सेवा के लिए सिविल सर्जन के प्रतिनिधि डॉ. नरेश करड़वाल, प्रचार-प्रसार के लिए लोक सम्पर्क अधिकारी, समारोह स्थल पर निर्बाध बिजली सप्लाई के लिए यूएचबीवीएन के प्रतिनिधि, स्कूली बच्चों के लिए यातायात एवं परिवहन व्यवस्था के लिए महाप्रबंधक परिवहन विभाग के प्रतिनिधि, पेयजल व्यवस्था के लिए जन स्वास्थ्य विभाग के प्रतिनिधि, समारोह स्थल पर साफ-सफाई तथा अस्थाई शौचालयों की व्यवस्था के लिए संयुक्त निगमायुक्त तथा प्रतिभागी बच्चों को रिफरेशमेंट मुहैया करवाने के लिए मार्किट कमेटी के सचिव को निर्देश दिए।

अंतरराष्टï्री योग दिवस बारे जिला आयुष अधिकारी डॉ. सतपाल जास्ट ने दी जानकारी- जिला आयुष अधिकारी ने मीटिंग में अंतरराष्टï्रीय योग दिवस पर प्रकाश डालते हुए बताया कि यह दिवस प्रतिवर्ष 21 जून को मनाया जाता है। पहली बार यह 21 जून 2015 को मनाया गया था। इसकी नींव भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 27 सितंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्रीय महासभा में योग से सम्बंधित एक प्रभावशाली भाषण के साथ रखी गई थी।

इसके बाद इसे 21 जून को संयुक्त राष्ट्रीय महासभा की ओर से अंतरराष्टï्रीय योगा दिवस घोषित किया गया। उन्होंने बताया कि योग भारत की प्राचीन परंपरा का एक अमूल्य उपहार है, यह दिमाग और शरीर की तंदरूस्ती का प्रतीक है। योग से व्यक्ति को सद्विचार और संयंम जैसे गुण मिलते हैं।

यह रहे मौजूद- बैठक में असंध के एसडीएम मनदीप कुमार, घरौंडा की एसडीएम अदिति, नगराधीश अमन कुमार, डीडीपीओ राजबीर खुंडिया, जिला आयुष अधिकारी डॉ. सतपाल जास्ट एवं उनके सहयोगी योग विशेषज्ञ, जिला शिक्षा अधिकारी राजपाल, पतंजलि योग समिति, मेरा मिशन स्वस्थ भारत तथा भारतीय योग संस्थान के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.