May 22, 2024

चंडीगढ़, 15 मार्च, 2023: रिलायंस जियो ने आज हरियाणा के 4 और शहरों, रेवाड़ी, भिवानी, कैथल और जींद, में ट्रू 5जी सेवाओं की शुरुआत की घोषणा की। इन शहरों के जियो यूजर्स को जियो वेलकम ऑफर के तहत आमंत्रित किया जाएगा।आमंत्रित यूजर्स को बिना किसी अतिरिक्त लागत के 1 जीबीपीएस+ तक की स्पीड पर अनलिमिटेड डेटा मिलेगा। इन 4 शहरों में जियो ट्रू 5जी सेवाओं के लॉन्च के साथ, हरियाणा में इस सेवा से जुड़ने वाले शहरों की कुल संख्या 17 हो गई है। अंबाला, पानीपत, रोहतक, हिसार, सिरसा, करनाल, सोनीपत, बहादुरगढ़, थानेसर, यमुनानगर, पंचकुला, गुरुग्राम और फरीदाबाद पहले से ही जियो ट्रू 5जी का लाभ उठा रहे हैं।

इस अवसर पर टिप्पणी करते हुए, जियो प्रवक्ता ने कहा, “हम हरियाणा के 4 और शहरों में जियो ट्रू 5जी का रोलआउट करने पर बहुत खुश हैं। यह लॉन्च इन शहरों में जियो यूजर्स के प्रति एक सम्मान का प्रतीक है जो अब जियो ट्रू 5जी के परिवर्तनकारी फायदों का आनंद ले पाएंगे। जियो की ट्रू 5जी सेवाओं के लॉन्च के साथ, इन शहरों में उपभोक्ताओं को न केवल सबसे अच्छा दूरसंचार नेटवर्क मिलेगा, बल्कि ई-गवर्नेंस, शिक्षा, ऑटोमेशन, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, गेमिंग, हेल्थकेयर, कृषि और आईटी के क्षेत्रों में विकास के असीम अवसर भी मिलेंगे।

जियो का पूरे हरियाणा को कवर करने वाला एक मजबूत नेटवर्क है, जो राज्य के सबसे दूरस्थ कोनों तक भी पहुंचता है। जियो के इंजीनियर हरियाणा के लोगों को ट्रू 5जी देने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं, ताकि वे इस तकनीक की ताकत से होने वाले व्यापक लाभों का फायदा उठा सकें।” राष्ट्रीय स्तर पर आज कुल 34 शहर जियो ट्रू 5जी नेटवर्क से जुड़े। इसके साथ देश में ट्रू 5जी से जुड़ने वाले शहरों की कुल संख्या बड़ कर 365 हो गयी है ।

जियो ट्रू 5जी का तीन गुना लाभ है जो इसे भारत का एकमात्र ट्रू 5जी नेटवर्क बनाता है:

1. 4जी नेटवर्क पर शून्य निर्भरता और एडवांस्ड 5जी नेटवर्क के साथ स्टैंड-अलोन 5जी आर्किटेक्चर

2. 700 मेगाहर्ट्ज, 3500 मेगाहर्ट्ज और 26 गीगाहर्ट्ज बैंड में 5जी स्पेक्ट्रम का सबसे बड़ा और बेहतरीन मिश्रण

3. कैरियर एग्रीगेशन जो कैरियर एग्रीगेशन नामक एक एडवांस्ड तकनीक का उपयोग करके इन 5जी फ्रिक्वेंसीज को एक मजबूत ‘डेटा हाईवे’ में जोड़ता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.