Advertisement


निफा द्वारा आयोजित अंतरराष्ट्रीय युवा एवं सांस्कृतिक महोत्सव हारमनी 2017 में लिंगानुपात और महिला सशक्तिकरण विषय पर सेमिनार लगाया गया। मुख्य वक्ता के तौर पर आईजी डा. सुमन मंजरी ने युवाओं के समूह को संबोधित किया। पर्वतारोही अनीता कुुंडु, सहोदय काम्पलेक्स के अध्यक्ष डा. राजन लांबा, कुमारी विद्यावती डीएवी गल्र्स कालेज करनाल प्रिंसिपल डा. नीलम लांबा तथा  डा. गणेशदास बीएड कालेज की प्रिंसिपल डा. राकेश संधु ने भी अपने विचार रखे। आईजी सुमन मंजरी ने लिंगानुपात में सुधार पर जोर देते हुए कहा कि हरियाणा में लिंगानुपात में काफी सुधार हुआ है। यह जनता में जागृति का परिणाम है। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए सकारात्मक सोच के साथ कार्य करने की आवश्यकता है। बेटियां देश का गौरव हैं।

बेटियां आगे बढ़ेंगी तो देश तरक्की करेगा। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बेटे बेटियों को समान अधिकार दें। समाज में महिलाओं को सम्मान और समानता की दृष्टि से देखा जाना चाहिए। बच्चों में अच्छे संस्कार भरकर उन्हें देश का एक अच्छा नागरिक बनाने का प्रयास करें। निफा ने करनाल में अंतरराष्ट्रीय युवा एवं सांस्कृतिक महोत्सव का आयोजन किया है, यह करनाल के लोगों के लिए गर्व की बात है। देशभर से आए कलाकारों को हरियाणा की संस्कृति और इतिहास जानने का मौका मिलेगा है। उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस महिला सशक्तिकरण में अहम भूमिका अदा कर रही है। नारी को हर स्तर पर सम्मान दिया जा रहा है। पर्वतारोही अनीता कुंडु ने कहा कि गुरुओं का आशीर्वाद है कि उन्होंने दो बार माउंट एवरेस्ट फतेह की। उन्होंने  युवाओं से कहा कि अपने आप पर विश्वास रखें। परिवार से जैसे संस्कार मिलते हैं व्यक्ति उसके आधार पर जीवन में मुकाम हासिल करता है। उन्होंने कहा कि हरियाणा बदल रहा है और इस बदलाव में महिलाओं का बड़ा योगदान है। इस अवसर पर निफा अध्यक्ष प्रितपाल सिंह पन्नु, संयोजक एडवोकेट नरेश बरना व महासचिव हरीश शर्मा मुख्य तौर पर
मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.