करनाल में भाजपा नेता ,कार्यकर्ता व पार्षद क्यों है नाराज ,कहाँ नहीं मिली आज हुए धरने प्रदर्शन की जानकारी ,देखें पूरी खबर

0
Advertisement

  • करनाल में भाजपा नेता ,कार्यकर्ता व पार्षद क्यों है नाराज ,कहाँ नहीं मिली आज हुए धरने प्रदर्शन की जानकारी ,देखें पूरी खबर
  • धरने से नदारद रहे कई भाजपा के पार्षद व नेता ,कुछ पहुँचे लेकिन कहाँ नहीं मिली थी जानकारी

( रिपोर्ट – कमल मिड्ढा ): विधानसभा चुनावों में भाजपा का लक्ष्य था 75 पार का लेकिन हरियाणा में भाजपा उसे पूरा नहीं कर पाई और बहुमत वाली सरकार भी नहीं बना पाई ,मजबूरन भाजपा को JJP का दामन थामना पड़ा !

ऐसे में भाजपा नेताओं को इसपर जहाँ गहरा मंथन करना चाहिए था मंथन करना तो दूर भाजपा नेता अलग अलग धड़ो में बंटते हुए नजर आ रहे है ,खासतौर पर खुद मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र करनाल में पिछले कई महीनों से भाजपा के ही कुछ स्थानीय कार्यकर्ता व RSS से जुड़े लोग संघठन के कुछ लोगों पर कई तरह के आरोप लगा रहे है लेकिन नाही मुख्यमंत्री मनोहर लाल की तरफ से या फिर संघठन की तरफ से इस बढ़ रही फूट को रोकने या खत्म करने का कोई प्रयास किया गया है नाही उन्हें समझाने का ,ऐसे में जो नाराजगी ही वह लगातार बढ़ती ही जा रही है !

Advertisement


करनाल में हुआ भाजपा का धरना ,पूर्व विधायक ,मौजूदा विधायक व लोकसभा सांसद संजय भाटिया तो पहुँचे लेकिन जिला स्तर पर जो भीड़ होनी चाहिए थी वह नहीं जुटा पाये !

भाजपा नेताओं के कुछ एक चहरों के अलावा कई वरिष्ठ भाजपा नेता ,कार्यकर्ता व यहाँ तक कि भाजपा के पार्षदों को भी आज के हुए इस धरने प्रदर्शन का निमंत्रण नहीं पहुँचा ! करनाल ब्रेकिंग न्यूज से बातचीत में भाजपा नेता कृष्ण लाल तनेजा ,चुनावों से पहले भाजपा में शामिल हुए मनोज वधवा ,मॉडल टाउन के भाजपा पार्टी के पार्षद व कई अन्यों से हुई बातचीत में सभी ने अपनी नाराजगी दर्ज कराई की उन्हें कोई निमंत्रण नहीं दिया गया था जिसके चलते आज वह धरने पर नहीं पहुँचे !

एक एक कर हमने इन नेताओं व अन्यों से जब इस बारे में बात की तो पता चला कि मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र करनाल में कार्यकर्ताओं की नाराजगी लगातार बढ़ती जा रही है !

लाईन पार इलाके के दोनों पार्षद ,नेता व कार्यकर्ता भी रहे धरने से नदारद !

Osd कौन बनेंगा ?

वही ऐसे में एक सवाल ओर इन दिनों करनाल में खूब उठ रहा है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल जी के इस बार के उनके करनाल से OSD कौन होंगे ,क्या पहले वाले OSD अमरेंद्र सिंह को ही यह स्थान मिलेंगा या फिर इस बार किसी स्थानीय नेता को भी OSD बनाया जा सकता है !

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.