युरोप में वालीबाल स्वर्ण पदक विजेता खिलाडिय़ों का गुनियाणा में किया स्वागत

0
Advertisement

भारतीय रेलवे वालीबाल टीम ने बुलगेरियां युरोप में 17वीं वल्र्ड रेलवे गेम्स में रूस की टीम को हराकर स्वर्ण पदक जीता। जिसमें गांव गुनियाणा के अमन व गांव उपलानी के रोहित ने स्वर्ण पदक जीत अपने गांव व देश का नाम रोशन किया। दोनों खिलाडिय़ों ने गांव बजीदा रोड़ान पहुंच बाबा लक्कड़ नाथ जी की समाधि पर मत्था टेक आशीर्वाद लिया। गांव मंजूरा में खिलाडिय़ों का युवा भाजपा नेता संजय मैहला व ग्रामीणों ने जोरदार स्वागत किया।

जिसके बाद सैंकड़ो मोटरसाईकिल, कारों व डीजे की धून के साथ करनाल कैथल रोड़ से होते हुए निसिंग, बस्तली व गुनियाणा ब्रह्मानंद आश्रम में पूर्व मंडी प्रधान रामकुमार गुनियाणा, आश्रम कमेटी सदस्यों,महिलाओं सहित अन्य ग्रामीणों ने नोटों व फूल मालाएं डाल उनका अभिनंदन किया गया। खिलाडिय़ों ने ग्रामीणों सहित गांव के नगर खेड़ा व शिव मंदिर में मत्था टेक व नाचते गाते डीजे की धून पर गांव की परिक्रमा की।

Advertisement


वालीबाल खिलाडिय़ों का घर पहुंचने पर महिलाओं ने मंगल तिलक कर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। भारतीय रेलवे खिलाड़ी अमन व रोहित ने इस जीत का श्रेय अर्जुन अवार्डी कोचदलेल सिंह, माता पिता, प्रवीन, अंर्तराष्ट्रीय वालीबाल खिलाड़ी नरेश कुमार, नंबरदार कर्ण सिंह, स्टेट अवार्डी सतपाल सिंह, रामकुमार को दिया। उन्होंने बताया कि यह प्रतियोगिता 24 अगस्त से 28 अगस्त तक बुलगेरियां युरोप में संपन्न हुई।

वालीबाल प्रतियोगिता में भारत ने रूस की टीम को हराकर गोल्ड जीता है। इस मौके पर रणधीर मंजूरा, राजबीर , फूल सिंह, कर्मबीर बस्तली, सतीश, सुरजीत, ईशम सिंह, पवन राणा, रणधीर सिंह, ऋषिपाल, बलबीर, पवन पहलवान, धर्मपाल, नरेंद्र गुनियाणा, शक्ति सिंह, सुल्तान सिंह, सोनु चौधरी, पूर्व सरपंच सुभाष, दिलबाग,सुरेंद्र च_ा, राजेंद्र फौजी व बलवान सिंह सहित अन्य ग्रामीणों ने खिलाडिय़ों का स्वागत किया

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.