शहीदों के नाम दिये पर लगाकर दी शहीदों को श्रद्धांजलि

0
Advertisement



समर्पण मानव सेवा समिति की ओर से मधुबन बाल भवन में बच्चों के साथ दीपावली का पूर्व धूमधाम के साथ मनाया गया। इस मौके पर सबसे पहले बच्चों के साथ क्रिकेट मैच खेला गया। जिसका बाल भवन के बच्चों के साथ समिति के सदस्यों ने जमकर लुत्फ उठाया। इसके बाद डीजे पर राष्ट्रभक्ति के गीतों पर बच्चों के साथ समाजसेवी जमकर झूमे। शाम को समिति के सदस्यों एवं बच्चों ने शहीदों के नाम पर दिये लगाकर देशभक्ति का संदेश दिया। समिति द्वारा इस मौके पर बच्चों को खाने-पीने का सामान, फल-फू्रट व उपहार वितरित किए गए।

समिति के अध्यक्ष दिलबाग कादियान ने बताया कि समिति द्वारा बाल भवन में अनाथ बच्चों के बीच दीपावली का पर्व बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। उन्होंने कहा कि समिति का उद्देश्य है कि हम दूसरों की खुशी के लिए कार्य करें। समिति को प्रत्येक सदस्य दूसरों के चेहरे पर खुशी देखना चाहता है। समिति द्वारा समाजसेवा के कार्यों को निरंतर किया जाता रहेगा।

Advertisement


उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि वह ऐसे कार्यों में उनके साथ आएं ताकि हम दूसरों को खुशियां दे सके। उन्होंने यह भी कहा कि शहीद हमारे देश की धरोहर है। शहीदों को हमें हर समय याद रखना चाहिए। खासकर हर खुशी के मौके पर हमें शहीदों को श्रद्धांजलि देनी चाहिए। जिनकी बदौलत आज हम खुली हवा में सांस ले रहे हैं।

इस अवसर पर मुख्य तौर पर मौजूद नगर निगम के डी.एम.सी. धीरज कुमार ने समर्पण मानव सेवा समिति के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि दीपावली पर सही मायने में सच्चा संदेश समिति द्वारा दिया गया है। समिति द्वारा बाल भवन में बच्चों के साथ यह पर्व मनाकर यह संदेश दिया गया है कि हमें खुशियां सांझी करके मनानी चाहिए। इससे समाज के बच्चों में काफी अच्छा संदेश जाता है।

इस मौके पर देवेंद्र सचदेवा, विनोद कुमार, हिमांशु ढींगड़ा, चिराग, मुकुल, नवीन कुमार, सुरेश पूनिया, ललिता राणा, विजय ठाकुर, राज पौधिया, प्रदीप कश्यप, अनुराधा, सचिन कुमार, सुखविन्द्र ढुल, चरणजीत घई, सुनील, रवि भाटिया, सतपाल अरोड़ा, संजय दीक्षित, रणदीप मान, बंसी लाठर, मनोज कुमार, आनंद शर्मा, विकास गुप्ता, शुभम, राजेंद्र, विशाल, संदीप चौहान, राज पौधिया, प्रदीप कश्यप, अनुराधा व सविता सहित समर्पण मानव सेवा समिति के अन्य सदस्य मौजूद थे।

Advertisement



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.