पुलिस अधीक्षक करनाल की अपील, थानो मेे नही है जगह, वाहनो को ईमपाउण्ड करने के लिए ना करे मजबूर ,देखें पूरी खबर

1
Advertisement


करनाल एस पी सुरेन्द्र सिह भौरिया, पुलिस अधीक्षक करनाल द्वारा प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से जिला वासियों से अपील करते हुए कहा कि भारत सरकार द्वारा लोगो की हिफाजत को ध्यान मे रखते हुए लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है। पहले लॉकडाउन में जिला वासियो की तरफ से प्रशासन को काफी मदद मिली है। जिस कारण करनाल में इस महामारी काफी हद तक सुरक्षित रहे है।

इसके बावजूद लोगो दुसरे चरण के लॉकडाउन को और अधिक सावधान रहने की जरूरत है, खुदाना खास्ता अगर किसी एक व्यक्ति की लापरवाही के कारण यह माहमारी को बढ़ावा मिला है तो, हमारी पिछले दिनो में की गई महनत पर पानी फिर सकता। इस लिए सभी से मेरी अपील है कि वह अपने घर से ना निकले, केवल घर में ही रहे। कुछ लोगो का ये सोचना है कि मेरे अकेले से थोडा ही महामारी फैलेगी मेरे को कौन देख रहा है।

Advertisement


जैसा आप सभी को पता है कई देशों में केवल एक व्यक्ति के कारण वहा अब यह संक्रमण महामारी का रूप धारण कर चुका है और वहा पर काफी जान माल का नुकसान हुआ है। अतः लॉकडाउन के नियमो की पालना करे। जिला पुलिस द्वारा ड्रोन की मदद से पुरे शहर पर नजर रखे हुए अगर को बहार बिना उचित कारण के मिला तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाऐगी।

पुलिस कप्तान करनाल ने बताया कि अब तक लॉकडाउन के नियमो की उल्घना करनो वालो पर कार्यवाही करते हुए 93 मुकदमे दर्ज रजिस्टर किये जाकर 130 व्यक्तियों को गिरफतार किया गया है। इसके अलावा इस दौरान 2770 वाहन चालको के चालान किये गये जिसमें से 920 वाहनो को इम्पाउण्ड किया गया। 1 करोड 81 लाख का जुर्माना लगाया गया है।

उन्होने बताया कि चालान करना, इम्पाउण्ड करना या मुकदमा दर्ज करना हमारा मकसद नही है। जनता इस बात को समझे नियमो को लागू कराना हमारा प्रथम कर्तव्य है, उन्हें लागू करवाने के लिए यह सब किया जा रहा है। अच्छा होगा अगर हर व्यक्ति इस बात को समझे और प्रशासन का साथ दें ताकि कार्यवाही की आवश्यकता ना रहें।

भौरिया द्वारा यह भी बताया गया कि थानो में इम्पाउण्ड वाहनो संख्या अधिक हो गई है थानो मे उनको पार्क करने की जगह भी नही रही। आगे से इंपाउंड वाहनो को हमने मंगल सैन ओडोटोरियम करनाल में पार्क करने की योजना बनाई है वहा पर गार्द लगाकर इम्पाउण्ड वाहनो को पार्क किया जाऐगा। लाकॅडाउन खत्म होने तक किसी के इम्पाउण्ड वाहन को छोडा नही जाऐगा।

अंत सभी जिला करनाल वासियो से अपील करते हुए कहा कि हमे मजबूर ना करे प्रषासन का साथ दे। नियमो की अनदेखी करने वालो के खिलाफ और अधिक सख्ती से निपटा जाऐगा।






1 COMMENT

  1. जिनके पेंशन नहीं बंद और जिनके राशन कार्ड नहीं बने हुए और गरीब जनता किस का दरवाजा खटखटा ए पुलिस अपनी कार्रवाई कर रही प्रशासन अपनी कार्रवाई कर रहा गरीब जनता किसको कहे कि उसकी सुनाई है क्योंकि उनकी सुनने वाला तो कोई नहीं चाहे वह पुलिस प्रशासन है चाहे वह उच्च अधिकारी हैं कोई सभी महकमा सुनने के लिए तैयार नहीं है उनके खिलाफ तो कार्रवाई दिन के दिन हो जाती है उनकी कार्रवाई करने के लिए सदियां बीत जाती हैं क्योंकि कभी कोर्ट में तारीख कभी सी के पास जाना कभी किसी अधिकारी गए साथ खड़े होना शिवाय धक्के खाने के और कोई चारा नहीं बचता ऐसे में तो हमें और कोई रास्ता नहीं हमें या तो जेल के अंदर रख लो या हमें गोली देकर मार दो क्योंकि सरकार के पास जो भी आता है वह जो उच्च अधिकारी हैं ऊनी तक सीमित रह जाता है गरीब जनता को उसका फल नहीं मिलता अगर कोई इस केस आवाज उठाता है या तो उसको मार दिया जाता है या उसको धमकी दी जाती है या जेल जाने के लिए मजबूर किया जाता है उस टाइम कहां प्रशासन सोता है क्योंकि हर एक महकमा रिश्वत लेने के पीछे हैं रिश्वत है तो सब कुछ है नहीं तो कुछ नहीं अगर एफ आई आर दर्ज करानी तब रिश्वत अगर किसी की उम्र की करणी तब रिश्वत किसी लापता की रिपोर्ट दर्ज करानी तब रिश्वत सब रिश्वत ही देनी है तो फिर किस चीज का प्रशासन और किस चीज का पुलिस महकमा कब तक अत्याचार अत्याचार सहेगा गरीब आदमी गरीब आदमी की कोई सुनने वाला नहीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.