बेटियों को बचाने और पढ़ाने का नारा देने वाली सरकार बेटियों के साथ अन्याय करना बंद करे – जेबीटी शिक्षिका

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जिला सचिवालय के सामने कई दिनों से धरने पर बैठे नॉन आपीनियन जेबीटी गुरुवार को भाजपा के प्रदेश महामंत्री एडवोकेट वेद पाल से मिले। महामंत्री को एक पत्र सौंप कर उन्हें अपने साथ हुए अन्याय से अवगत करवाया। जेबीटी ने कहा कि शिक्षा विभाग और सरकार ने उनके साथ बेइंसाफी की है। इस पर महामंत्री वेद पाल ने जेबीटी से कहा कि वह उनकी मांग को सरकार तक पहुंचाएंगे।

उन्हें मुख्यमंत्री से मिलवाएंगे। प्रयास करेंगे कि सभी जेबीटी को स्कूलों में ज्वाइनिंग दी जाए। इस अवसर पर धर्मबीर सैनी और किरण मलिक ने कहा कि उनके साथ शिक्षा विभाग और सरकार ने भेदभाव किया है। उन्हीं की तरह संपूर्ण योग्यता रखने वाले कई अध्यापकों को नौकरी दी गई है तो उन्हें इस नौकरी से क्यों वंचित रखा जा रहा है।

Advertisement


सरकार भेदभाव करना बंद करे और पढ़े लिखे युवाओं को रोजगार देने के  अपने वादे पर अमल करे। इस मौके पर महिला अध्यापक किरण मलिक ने कहा कि बेटियों को बचाने और पढ़ाने का नारा देने वाली सरकार बेटियों के साथ अन्याय करना बंद करे। बेटियों को पढऩे लिखने के बाद नौकरी दी जाए। स्कूलों में ज्वाइनिंग नहीं देकर सरकार ने बेटियों का अपमान करने का काम किया है।

इन जेबीटी शिक्षकों का कहना है कि सरकार कुंभकर्णी नींद से उठे और भेदभाव समाप्त करके सभी योग्य पात्रों को शीघ्र स्कूलों में नौकरी के लिए भेजा जाए। इस अवसर पर धर्मवीर सैनी, किरन मलिक, अनिल सैनी, मनोज भारद्वाज, प्रियंका, मीनाक्षी, आरती, सुरेन्द्र, अजय व सुमनलता मौजूद रहे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.