इंडियन डेंटल एसोसिएशन की तीन दिवसीय स्माइल सम्मिट 2018 नामक दन्त चिकित्सा सम्मेलन का विधिवत रूप से समापन

0
Advertisement

शेयर करें।
  • 19
  •  
  •  
  •  
  •  
    19
    Shares

इंडियन डेंटल एसोसिएशन की करनाल शाखा द्वारा स्थानीय नूर महल होटल में चल रही तीन दिवसीय स्माइल सम्मिट 2018 नामक दन्त चिकित्सा सम्मेलन का विधिवत रूप से समापन हुआ। इस अवसर पर मुख्यातिथि के रूप में हरियाणा दंत चिकित्सा सेवाएं के निदेशक डा. प्रवीण सेठी ने शिरकत की। इनके अलावा कार्यक्रम में विशिष्टï अतिथि के रूप में डा. एसपीएस सोढी ने शिरकत की। कार्यक्रम में आए हुए अतिथियों का स्वागत करनाल शाखा के अध्यक्ष डा. विपुल भाटिया ने किया।

इस अवसर पर डा. प्रवीण सेठी ने आयोजकों को बधाई देते हुए कहा कि ऐसा सम्मेलन उल्लेखनीय है कि हरियाणा में पहली बार हुआ है। वर्तमान में हरियाणा में दंत चिकित्सकों को किस प्रकार की जानकारी होनी चाहिए, इसी उद्ेदश्य से सम्मेलन में दूर दराज से डाक्टरों को बुलाया गया है। इस मौके पर  शाखा के अध्यक्ष डा. विपुल भाटिया तथा सम्मेलन के अध्यक्ष डा. गौरव ठाकुर ने बताया कि सम्मलेन में तीन दिन तक लगभग 500 दन्त चिकित्सकों व दन्त चिकित्सा के विद्यार्थियों ने भाग लिया तथा कार्यक्रम को सम्बोधित किया।

Advertisement

इस अवसर पर सम्मलेन के सचिव डा. जे पी एस मल्होत्रा तथा डा. एन पी सिंह ने बताया की तीन दिन में हंगरी, दिल्ली, चंडीगढ़, पंजाब, मुम्बई से आये राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों द्वारा दन्त चिकित्सा क्षेत्र के विभिन्न आयामों में हो रही तकनीकी उन्नति और नयी पद्धतियों के बारे में लेक्चर व कार्यशालाओं के माध्यम से प्रतिभागियों को सचेत कराया गया। सम्मलेन के समन्वयक डा. आशीष पसरीचा ने बताया कि डा. शालू बठला और डा. अतुल शर्मा की मदद से तीन दिन का यह सेमिनार सुचारू रूप से दन्त चिकित्सा  बारे ज्ञान-वर्धन करने में सफल रहा। समारोह में डा. नितीश भारद्वाज, डा. उर्वशी भारद्वाज, डा.अमित अरोड़ा, डा. जतिन आर्य, डा. प्रीति भाटिया, डा. शालिनी ठाकुर आदि युवा दन्त चिकित्सकों का विशेष योगदान रहा।

इस मौके पर संस्था के वरिष्ठ सदस्यों डा. वी के शर्मा, डा.अनूप जैन, डा. जावा, डा. मिनोचा, डा. संजय गोयल व डॉ. संजीव गर्ग ने सम्मलेन की सफलता के लिए आयोजक समिति के प्रयासों की सराहना की तथा भविष्य में भी ऐसी गतिविधियों के लिए शुभकामनाएं दीं। सम्मलेन की एक विशेष आकर्षण रही पदमश्री डा. महेश वर्मा, प्रो. डा. नागेश्वर अय्यर और डा. राजीव चितगुप्पी द्वारा दन्त चिकित्सा के क्षेत्र में सफलता के आयाम पर विशेष गोष्ठी आयोजित की गई ।

इस गोष्ठी के माध्यम से आये सभी डॉक्टरों और विद्यार्थियों को अच्छी तरह से दांतों की समस्याओं से पीडि़त लोगों के उचित इलाज व इस बारे ज्ञान वद्र्धन के औचित्य को समझाया गया। डा. परमिंदर सहगल ने भाग लेने वाले सभी दन्त चिकित्सा उपकरण और दवाइयों के विक्रेताओं का प्रदर्शनी में भाग लेने व् सहयोग देने के लिए आए हुए अतिथियों का धन्यवाद किया।


शेयर करें।
  • 19
  •  
  •  
  •  
  •  
    19
    Shares
Advertisement




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.