करनाल के गगसिना गांव में शहीद भगत सिंह चौक का भगत सिंह के पोते यादविंदर सिंह ने किया उदघाटन

0
Advertisement



Live – देखें – शहीद भगत सिंह की जयंती पर आज करनाल के गगसिना गांव में शहीद भगत सिंह चौक का भगत सिंह के पोते यादविंदर सिंह ने किया उदघाटन ,देखें Live – Share Video

पूरा देश आज शहीद भगत सिंह की जयंती मना रहा है, भगत सिंह वो आवाज़ थी , जिससे अंग्रेजी हुकूमत थर थर कांपती थी। 28 सितंबर 1907 को जन्मे शहीद भगत सिंह की 114 जयंती आज है, जिसको लेकर हर जगह युवाओं में एक जोश है।

Advertisement


करनाल के गगसीना गांव में शहीद भगत सिंह के पोते यादवेंद्र सिंह पहुंचे , उनका फूल मालाओं के साथ स्वागत किया गया , वहीं ट्रैक्टर पर सवार होकर वो जब आए तो भारत माता की जय के नारों से वो जगह गूंज उठी।

यादवेंद्र सिंह ने वहां पर एक शहीद भगत सिंह चौक का उद्घाटन किया और उनकी मूर्ति का अनावरण भी। शहीद भगत सिंह की मूर्ति बड़ी ही शानदार है जिस पर वहां के युवाओं ने फूल भी अर्पित किए। वहीं इस मूर्ति को गांव के बीच में इसलिए लगाया गया है कि ताकि गांव के नो जवान से लेकर बच्चा भगत सिंह के बारे में जानने का इच्छुक हो, उनके विचारों से प्रेरित हो।

यादवेंद्र सिंह ने कहा कि शहीद भगतसिंह ब्रिगेड कोशिश करती है कि हमारे देश के क्रांतिकारियों से जुड़े कार्यक्रम होते रहने चाहिए , किताबों में उनके बारे में बच्चों को ज़्यादा से ज़्यादा पढ़ाना चाहिए ,बताना चाहिए ताकि बच्चो को उनके बारे में ज़्यादा से ज़्यादा पता हो।

वहीं किसान आंदोलन के बारे में यादवेंद्र सिंह ने कहा कि भगत सिंह के चाचा जी ने भी एक आंदोलन 1907 में अंग्रेजों के खिलाफ किसानों को लेकर चलाया था तब गोरे अंग्रेज 9 महीने के बाद झुक गए थे पर अब किसान आंदोलन को 9 महीने से ज़्यादा का समय हो गया है और ये काले अंग्रेज हैं इन्हें कुछ दिखाई नहीं दे रहा , ये धृतराष्ट्र की तरह अंधे हो गए हैं, इन्हें गलत चीजें नहीं दिखाई दे रही हैं, अब एक नया भारत खड़ा हो गया, जो सवाल करना सीख गया है, जनता जनार्दन होती है उसकी मांगों को समझना चाहिए और जल्द से जल्द इन कानूनों को रद्द किया जाना चाहिए ।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.