समाधांचल सेवा समिति की ओर से जिला सचिवालय में 171वीं त्रिवेणी लगाई गई

0
Advertisement


शेयर करें।
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share

आईजी सुभाष यादव और समिति अध्यक्ष एडवोकेट संतोष यादव ने बड़, नीम और पीपल का पौधा लगाकर पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रेरित किया। इस मौके पर आईजी सुभाष यादव ने कहा कि पेड़ पौधे सुख प्रदान करने वाले होते हैं। वे जीवित रहने के लिए प्राणवायु देते हैं। वृक्षों की निरंतर होती कमी से वातावरण में प्रदूषण का स्तर दिनोंदिन बढ़ रहा है जो अनेक बीमारियों का कारण है। यदि वृक्षों का संरक्षण नहीं किया तो पर्यावरण खतरे में पड़ जाएगा और मानवता शुद्ध वायु के लिए तरस जाएगी। गलोबल वार्मिंग के नियंत्रण के लिए त्रिवेणी लगाएं। एडवोकेट संतोष यादव ने कहा कि शास्त्रों के अनुसार हर व्यक्ति को लगानी चाहिए। त्रिवेणी बढऩे के के साथ-साथ सुख समृद्धि बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि त्रिवेणी लगाने का उद्देश्य पर्यावरण के प्रति प्रत्येक व्यक्ति को अपनी प्रतिबद्धता का चिंतन करने का संदेश है। यदि वृक्षों का संरक्षण और नए पौधों का रोपण नहीं किया गया तो आने वाली पीढिय़ां शुद्ध वायु के लिए तरस जाएंगी। मानवता पर संकट खड़ा हो सकता है। इसलिए पर्यावरण के प्रति सचेत हो जाना चाहिए। संतोष यादव ने कहा कि वैसे भी त्रिवेणी शीतलता प्रदान करने वाली, सभी रोगों को दूर करने वाली है। इस अवसर पर समिति के नवनियुक्त करनाल जिला अध्यक्ष एडवोकेट दीपक, एडवोकेट रविंद्र, एनआरआई राव अमित, रामदयाल बलड़ी, सहर्ष, गुरताज विर्क, डा. एसपी सिंघल, राजीव व संजीव नरवाल मौजूद रहे।


शेयर करें।
  • 1
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1
    Share
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.