सड़क सुरक्षा के अंतर्गत व्याख्यान व रैली का आयोजन

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

दयाल सिंह कॉलेज करनाल मे एन एस एस और युवा रैड क्रॉस विंग के संयुक्त तत्वावधान मे सड़क सुरक्षा के अंतर्गत व्याख्यान व रैली का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के आरम्भ मे रोड सेफ़्टी के नोडल अधिकारी व युवा रैड क्रॉस के संयोजक प्रो. सुशील गोयल जी ने प्राचार्य का स्वागत किया।इस अवसर पर रोड सेफ़्टी के नोडल अधिकारी व एन एस एस के प्रोग्राम अॉफिसर डॉ महावीर प्रसाद ने अपने व्याख्यान मे विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सड़क यातायात सुरक्षा एक प्रकार का विधि या उपाय है जिससे सड़क दुर्घटना में लोगों को चोट लगने और उससे मौत होने आदि घटनाओं को कम करने का प्रयास किया जाता है।

उन्होंने बताया कि करनाल जिले मे प्रशासन ने बहुत जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये हुए हैं यदि वहां से कोई लाल बत्ती, बिना हेल्मेट या अन्य नियमों का उल्लंघन करते हुए निकलता है तो उसका चालान अपने आप हो जाता है। इसके अलावा टीमें ई-चालान भी करती रहती हैं। इसलिए हमें नियमों का पालन करना चाहिए ताकि हमें किसी प्रकार की असुविधा न हो।

Advertisement


इस अवसर पर युवा रैड क्रॉस के संयोजक प्रो. सुशील गोयल ने कॉलेंज के युवाओं को सम्बोधित करते हुए बताया कि सबसे ज़्यादा हादसे तब होते है जब हम सर्विस लेन से मुख्य हाइवे पर चढ़ते है तो असावधानी के कारण भयंकर हादसे होते है, इसलिए हमारी सावधानी से अपनी और अन्य लोगो की जान बच सकती है।उन्होंने बताया कि जीवन अनमोल है। जरा सी चूक जीवन को संकट में डाल देती है। इसलिए खुद भी यातायात के नियमों का पालन करें और दूसरों को भी प्रेरित करें।

इस अवसर पर कॉलेज प्राचार्य डॉ. के. एल. गोसाईं ने विद्यार्थियों को बताया कि यातायात के  दौरान जो हादसे होते है वह चौंकाने वाले है क्योंकि मौत के जो आंकड़े मुझे मिले है वो किसी बीमारी या लड़ाई-झगड़े से कहीं ज्यादा सड़क हादसों में हुई मौतों के थे। उन्होंने बताया कि सड़क हादसे में हुई मौतों के आंकड़ों में सबसे ज्यादा 15 से 40 वर्ष की उम्र के लोग शामिल है।

उन्होंने कहा कि चाहे हम कितने भी नियम बना ले लेकिन जब तक हम पालन नही करेंगे तब तक हादसे ऐसे ही होते रहेंगे। डॉ. एस पी भट्टी ने भावी पीढ़ी को सड़क दुर्घटनाओं से बचाव और यातायात नियमों की पालना के बारे में जानकारी दी।इस अवसर पर मंच संचालन डॉ. जय कुमार ने करते हुए बताया कि हम नियमों को ध्यान मे रखकर ही हम रोड सेफ़्टी के महत्व को जान सकते है।

इस अवसर पर सड़क सुरक्षा पर नारा लेखन प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया।जिसमें विद्यार्थियों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया।प्रतियोगिता मे विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम के अंत मे कॉलेज प्राचार्य ने विद्यार्थियों को हरी झंडी दिखाकर सडक सुरक्षा पर रैली को रवाना किया और यह रैली कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज और अम्बेडकर चौक से होती हुई कॉलेज पहुँची। इस अवसर पर डॉ तेज़ पाल, प्रो संदीप कल्याण, प्रो जितेंद्र कौशिक व कॉलेज के अन्य प्राध्यापक भी उपस्थित रहे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.