पानी निकासी के समाधान के लिए 50 लाख रूपये की परियोजना का प्रपोजल तैयार

0
Advertisement

करनाल दाहा बजीदा गांव में गंदे व बरसाती पानी की निकासी के समाधान को लेकर विधायक हरविन्द्र कल्याण व उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने जिला अधिकारियों की टीम के साथ लिया स्थिति का जायजा। पानी निकासी के समाधान के लिए 50 लाख रूपये की परियोजना काप्रपोजल तैयार

करनाल के दाहा बजीदा गांव में गंदे व बरसाती पानी की निकासी के स्थाई समाधान को लेकर घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण व उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने गुरूवार को जिला अधिकारियों की टीम के साथ स्थिति का जायजा लिया।

Advertisement


विधायक ने साईट पर जाकर अधिकारियों के साथ इस समस्या के समाधान के लिए विस्तार से चर्चा की और ग्रामीणो को विश्वास दिलाया कि इसका जल्द ही हल करवाया जाएगा। उन्होंने ग्रामीणो से सहयोग की अपील की कि जिन लोगों से थोड़ी बहुत जमीन लेने की जरूरत पड़ी तो वे इसमें मदद करें।

उन्होंने झीलनुमा बन चुके एरिया के प्रभावित किसानो को सरकार से मुआवजा दिलवाने की बात भी कही। उन्होंने गांव के गंदे पानी की समस्या के समाधान के लिए मछली तालाब बनाने का भी सुझाव दिया और कहा कि इससे पंचायत की आमदनी में भी इजाफा होगा।

इस अवसर पर उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने विधायक हरविन्द्र कल्याण को अवगत कराया कि बाढ़ सुरक्षा प्रबंधन योजना के तहत जिला प्रशासन द्वारा दाहा गांव के झील एरिया के बरसाती पानी की निकासी के लिए करीब 50 लाख रूपये की राशि का एक प्रपोजल सिंचाई विभाग द्वारा तैयार किया गया है, जिसके तहत बंद पड़ी ड्रेन को चालू किया जाएगा। गांव दाहा में सम्पवेल तथा ऊंचा समाना में गेट व सम्पवेल बनाया जाएगा।

उपायुक्त ने मौके पर उपस्थित जिला राजस्व अधिकारी को निर्देश दिए कि जिस क्षेत्र में गांव का गंदा व बरसाती पानी खड़ा होता है, उस क्षेत्र की इस बात को लेकर जांच करवाई जाए की उसमें पंचायती व किसान भाईयों की कितनी-कितनी जमीन निकलती है।

उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसान भाईयों की कम से कम जमीन लेकर गांव की इस समस्या का स्थाई समाधान करें। उन्होंने यह भी बताया कि गांव के गंदे पानी की निकासी का प्रबंध नगर निगम द्वारा किया जा रहा है, जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा पम्पिंग कर इस पानी को सिंचाई विभाग की ड्रेेन में डालकर इसकी निकासी की जाएगी।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.