चिल्ड्रन फिल्म सोसाईटी की ओर से स्कूली बच्चो को मनोरंजक व ज्ञानवर्धक फिल्मे दिखाए जाने का शेड्ïयूल तैयार

0
Advertisement

चिल्ड्रन फिल्म सोसाईटी की ओर से स्कूली बच्चो को मनोरंजक व ज्ञानवर्धक फिल्मे दिखाए जाने का शेड्ïयूल तैयार, शहर के सुपर मॉल स्थित मूवी टाईम तथा के3सी मॉल स्थित पीवीआर सिनेमा में 25 से 30 मार्च तक बच्चे देखेंगे फिल्मे-उपायुक्त विनय प्रताप सिंह। 

करनाल 22 मार्च,   चिल्ड्रन फिल्म सोसाईटी की ओर से स्कूली बच्चो को मनोरंजक व ज्ञानवर्धक फिल्मे दिखाने के लिए जिला शिक्षा अधिकारी की ओर से बच्चो की संख्या का ब्लॉक वाईज़ शैड्ïयूल बना दिया गया है, जो 25 से 30 मार्च तक रहेगा। इस अवधि में करनाल सहित अन्य सभी ब्लॉकों से प्रतिदिन करीब 700 बच्चे शहर के सैक्टर-12 स्थित दोनो मॉल में फिल्मे देखने आएंगे। बाल चित्र समीति दिल्ली के सहायक वितरण अधिकारी अशोक कुमार ने दिखाई जाने वाली दो फिल्मे क्रमश: पप्पू की पगडण्डी तथा हैप्पी मदर्स डे, सिनेमा घरो को उपलब्ध करवा दी गई है। दोनो मॉल में मूवी टाईप तथा पीवीआर सिनेमा के तहत 800 से अधिक दर्शको के बैठने की क्षमता है। बच्चो के साथ उनकी देखभाल के लिए प्रत्येक स्कूल के दो-दो अध्यापक भी रहेंगे।

Advertisement


सहायक वितरण अधिकारी अशोक कुमार ने इस सम्बंध में बताया कि मूवी टाईम के दो अलग-अलग पर्दों पर पम्पू की पगडण्डी और पीवीआर सिनेमा के भी दो अलग-अलग पर्दों पर हैप्पी मदर्स डे फिल्म दिखाई जाएंगी। प्रत्येक फिल्म की अवधि 90 से 100 मिनट की रहेगी। दोनो फिल्मे मनोरंजक व ज्ञान से भरपूर हैं और बच्चे इनको देखकर खुश होंगे। इससे उनका मूड अच्छा होगा और परीक्षाओ के दौरान बच्चो में जो अनावश्यक तनाव हो जाता है, वह भी दूर हो सकेगा। फिल्मे दिखाए जाने का कार्यक्रम पूर्णत: नि:शुल्क रहेगा। लेकिन बच्चो को लाने-लेजाने की जिम्मेदारी सम्बंधित स्कूल के अध्यापकों की रहेगी।

चिल्ड्रन फिल्म सोसाईटी के सहायक वितरण अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि सोसाईटी का गठन 1955 में हुआ था। तब से लेकर अब तक बच्चो को फिल्मे दिखाए जाने का सिलसिला जारी है। उन्होने बताया कि हरियाणा में इससे पहले जींद व हिसार में भी बच्चो को शिक्षाप्रद फिल्मे दिखाई जा चुकी हैं।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.