वार्ता विफल होने के बाद किसानों के तेवर हुए तीखें

0
Advertisement
शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सरकारी प्रतिनिधियों और किसानों के बीच बातचीत विफल होने के बाद किसानों के तेवर तीखें हो गए है। भाजपा नेताओं और विधायक द्वारा किसानों के नाम पर राजनीति करने से किसान अब नाराज हो उठे है। भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष रतनमान ने कहा कि अब तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल से सीधी बातचीत होगी। क्या मुख्यमंत्री किसान का बेटा होने का फर्ज किसानों से मिलकर और उनकी समस्या सुनकर अदा करेंगे या फिर अन्य भाजपा नेताओं की तरह मुख्यमंत्री भी केवल राजनीति ही करेंगे।

किसानों का धरना शुगर मिल गेट पर 20वें दिन जारी रहा। आज इन्द्री के 85 से अधिक किसानो ने गिरफ्तारी दी। किसानों का उत्साह और अधिक बुलंद होता जा रहा है। इस मौके पर भाकियू नेता रतनमान ने कहा कि किसान अपनी अवाज को बुलंद करके ही दम लेंगे। उन्होंने कहा कि फैसले हमेशा लिखित में होते है मौखिक नहीं। मीडिया में जिस तरह से भाजपा के विधायक ने भ्रमित करने की स्थिति पैदा करने की कोशिश की है।



उसका खामियाजा चुनावों में भुगतना पड़ेगा। 13 अगस्त को नसीबपुर के किसान गिरफ्तारियां देंगे। आज गिरफ्तारी देने वाले जत्थे का नेतृत्व किसान नेता सतीश कलसौरा ने किया। गिरफ्तारी जत्थे में ओमबीर, अंग्रेज सिंह, दिलावर, जयभगवान, प्रवीन कुमार, परमजीत सिंह, रविन्द्र कुमार, विकास कुमार, संजीव, अमित, शीशपाल, महीपाल, चूहड़ सिंह, शमशेर सिंह, चन्द्रभान, प्रमोद कुमार, विनोद कुमार, बलविन्द्र, महिपाल, नवाब, नरेन्द्र कुमार, मान सिंह, ईश्वर सिंह, जसबीर, संजीव, सुरजीत सिंह, नरेश कुमार तथा गढीबीरबल, घीड़, बदनपुर, कलसौरा, डबकौली, सैयद छपरा, चोरपुरा के 85 से अधिक किसानों ने गिरफ्तारियां दी।

Advertisement

धरना स्थल पर किसानों का नेतृत्व भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष रतनमान ने किया। इस अवसर पर मेहताब सिंह, श्याम सिंह, महावीर सैनी, मौजी राम, कर्ण सिंह, संजीव, सुभाष, राजकिशन, सुरेन्द्र सिंह घुम्मन, सुरेन्द्र सांगवान, सतपाल बड़थल, बाबूराम बड़थल, बाबूराम डाबरथला, सतीश कलसौरा, राज सिंह राणा, दिलावर सिंह, ओमपाल सिंह, सुरेन्द्र पाल काम्बोज, जितेन्द्र चोरपुरा, राज राणा, जयभगवान, महावीर सिंह, ओमपाल सिंह, वेदपाल, पूर्णचंद, धर्मपाल, राजेन्द्र राणा, सुनील पंवार, देवेन्द्र मैहला, श्रवण कुमार, नवाब सिंह, रामेश्वर और सुभाष चन्द मौजूद थे।

मुख्यमंत्री स्वीकृति दें तो भाकियू करेगी करनाल में गन्ना किसान रैली : भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष रतनमान ने कहा कि यदि मुख्यमंत्री रैली में मुख्यातिथि बनने के लिए स्वीकृति दें तो भाकियू अब तक की सबसे ऐतिहासिक गन्ना किसान रैली करनाल में आयोजित कर सकती है। जो धान रैली का भी रिकार्ड तोड़ देगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री इस रैली के माध्यम से गन्ना किसानों की समस्याओं का निराकरण कर सकते है। गन्ना किसान रैली यदि मुख्यमंत्री की स्वीकृति से होती है तो यह अब तक की सभी किसान रैलियों का रिकार्ड तोड़ देगी और भाजपा के बड़बोले नेताओं को अपनी ओकात समझ में आ जाएगी।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.