पुलिस के खिलाफ शिकायतें लेकर आने वाले लोगों का ग्रह मंत्री अनिल विज के घर लगा तांता ,देखें Live

0
Advertisement



अम्बाला: हरियाणा की खट्टर सरकार में अनिल विज ने गृह मंत्रालय का पदभार क्या संभाला की पुलिस की कार्यप्रणाली से प्रताड़ित लोगों का विज के घर तांता लग गया । अनिल विज प्रसिध्द सीरियल शक्तिमान के सशक्त किरदार में लोगों की समस्याओं का समाधान करने में लग गए ।

Advertisement


सैकड़ों शिकायतें रोजाना अनिल विज के घर आने लगी , लिहाजा हर सुबह लंबी-लंबी कतारों में लोग अपना दुखड़ा लेकर अनिल विज के दरबार में पहुंच रहे हैं  , और विज भी शक्तिमान की तरह लोगों की समस्याओं का समाधान कर रहे हैं ।

अनिल विज ने आज छुट्टी वाले दिन भी अपने निवास पर जनता दरबार लगाया जहां  रोती बिलखती महिलाएं विज के पास इंसाफ की फरियाद  ले कर पहुंची ।  विज ने सबकी फरियाद सुनी और उन्हें आश्वाशन दिया कि उनके साथ न्याय होगा अन्याय नहीं ।

हरियाणा में अनिल विज द्वारा गृह मंत्री का कार्यभार संभालने के बाद से ही लोगों का तांता अनिल विज के निवास पर लगना आम बात हो गई है। गौरतलब है कि बीते पांच वर्षों में भी प्रदेश के कोने कोने  से लोग अपनी शिकायतें लेकर विज के पास पहुँचते थे। मगर इस बार विज के पास गृह मंत्रालय आ जाने के बाद से ही पुलिस से संबंधित शिकायतों का अंबार विज के दरबार में लगना शुरू हो गया है।

विज हरियाणा की  राजनीति के ताकतवार नेता हैं लिहाजा लोगों को लगता है की विज शक्तिमान है , और उनकी अनसुलझी समस्याओं का हल चुटकी में कर सकते हैं।   आज रविवार के दिन भी विज के निवास के बाहर सैंकड़ों की संख्या में लोग शिकायतें लेकर पहुंचे।

प्रदेश के लगभग हर हिस्से से पहुंचे लोगों की शिकायतों के निपटान के लिए विज ने मौके पर ही आदेश जारी किये। गंदगी का विरोध करने पर हुई मारपीट की शिकायत लेकर विज के पास पहुंचा दंपत्ति भावुक हुआ तो विज ने उन्हें आश्वासन दिया और कहा कि उनके पास आकर रोने की जरूरत नहीं है।

विज के दरबार में आज सबसे ज्यादा पुलिस द्वारा लोगों की शिकायतों पर कार्रवाई न करने की शिकायतें पहुंची। जिसके चलते विज ने मौके से ही उनके निपटान के आदेश जारी किये। विज के दरबार में आई एक महिला ने बताया कि वो आखिरी उम्मीद लेकर विज के दरबार में पहुंची है और विज ने उन्हें ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया है।






LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.