पत्नी भागी पड़ोसी युवक के साथ , पति ने अपने दो बच्चों को मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी लगा ली फांसी , तीनों की मौत

0
Advertisement



हरियाणा के करनाल जिले के विधानसभा इंद्री के गांव भादसों में एक ही परिवार के तीन सदस्यों की हुई मौत की सूचना से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। भादसों के रहने वाले करीब 32 वर्षीय सुखविंद्र ने अपने दो बच्चों को मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी फांसी के फंदे पर झूल गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी। जानकारी के अनुसार मृतक सुखविंद्र ने अपने 4 वर्षीय लड़के और 6 वर्षीय लड़की को फांसी के फंदे पर लटकाने के बाद खुद भी फंदे से लटककर जीवन लीला समाप्त कर ली। परिजनों का कहना है कि मृतक सुखविंद्र की पत्नि सीमा ने करीब एक महीना पूर्व अपने पड़ोसी कर्णवीर के साथ भागकर शादी कर ली थी।

जिसके बाद से सुखविंद्र लगातार तनाव में था। परिजनों का आरोप है कि कर्णवीर और सीमा उसे बार बार फोन पर धमकियां भी देते थे। थाना प्रभारी सचिन ने बताया कि भादसो गांव से सूचना मिली थी गांव में एक सुरेंद्र नाम का व्यक्ति है जिसने अपने बच्चों के साथ सुसाइड कर लिया। सीन ऑफ क्राइम टीम को मौके पर बुलाया गया है।परिवार के लोगों को इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि पड़ोस में ही एक लड़का रहता है| उस लड़के पिछले महीने की 25 तारीख को मृतक की पत्नी सीमा के साथ शादी रचा ली| इस बारे में मृतक की पत्नी के मायके वाले के बयान पर कुंजपुरा में मामला भी दर्ज है। जिसमें सीमा ने कोर्ट के समक्ष अपने बयान दर्ज कराए सीमा ने कहा कि हम ने शादी कर ली है , मैं अपने दोनों बच्चों को अपने पति के पास छोड़ कर आ गई हूं, मामले को लेकर हाईकोर्ट में भी पिटिशन डाली है जिसमें उन्होंने कोर्ट से दरख्वास्त की है कि हम दोनों ने शादी कर ली है और आप हम दोनों इकट्ठा रहने की इजाजत दी जाए।

Advertisement


करण शादीशुदा नहीं है मृतक के परिजनों का कहना है कि करण हमें धमकी देता है कि मैं गांव में जाकर रहूंगा और दोनों बच्चों को भी अपने साथ रखुगा । दोनों परिवारों के घर भी आमने-सामने हैं, जिसको लेकर सुखविंदर के बड़ी ठेस लगी और वह कई दिनों से परेशान था | इसलिए उसने यह कदम उठा लिया है | शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी |





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.