OSD अमरेन्द्र सिंह 4 साल रहे करनाल आखिरी साल क्यों किया मुख्यमंत्री ने उन्हें करनाल से दूर , देखें पूरी खबर

0
Advertisement

4 साल करनाल में रहने के बाद अचानक पांचवे व आखिरी साल मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर के सबसे नजदीकी माने जाने वाले OSD अमरेन्द्र सिंह को करनाल से दूर कर दिए जाने के बाद कई तरह के सवालियां निशान विपक्षी पार्टियों के नेता उनपर लगा रहे है !

गौरतलब है कि जब मनोहर लाल खट्टर को करनाल विधानसभा से भाजपा पार्टी ने टिकट दिया था तब से अमरेंद्र सिंह उनके साथ साथ रहा करते थे ,अमरेन्द्र सिंह मनोहर लाल खट्टर के सबसे नजदीकी इंसान थे जिन्हें तभी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मुख्यमंत्री बनते ही अपने विधानसभा छेत्र करनाल का OSD बना दिया था हालांकि शुरुयात में भाजपा पार्टी के उन स्थानीय कुछ नेताओं को झटका जरूर लगा था जो यह सोचकर बैठे थे कि शायद उन्हें स्थानीय होने के चलते OSD बनाया जाए क्योंकि वह लोग करनाल ओर यहाँ के लोगों को भली भांति जानते भी है लेकिन किस्मत खुली अमरेंद्र सिंह की !

Advertisement


अमरेंद्र सिंह उत्तर प्रदेश के बलिया इलाके से आते है ,करीब 3 महीने पहले उन्हें चंडीगढ़ बिठा दिया गया हालांकि स्थानीय नेता इस मामले में खुलकर आज तक बोलने से बचते नजर आते है सिर्फ इतना कहते है कि उन्हें कोई और बड़ी जिम्मेवारी मनोहर लाल जी ने दे दी है !

विश्वशनीय सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार मुख्यमंत्री खट्टर के पास OSD अमरेन्द्र सिंह की कई बार शिकायतें पहुँची थी जिसे मुख्यमंत्री द्वारा कई बार तो नजर अंदाज कर दिया गया वही करीब 2 साल पहले उन्हें एक बार तो चंडीगढ़ बुला भी लिया गया था लेकिन फिर कुछ समय बाद उन्हें करनाल में मंगलवार और शुक्रवार को खुला दरबार लगाने की इजाजत दे दी गई थी ,लेकिन उसके बाद भी कहीं न कहीं करनाल के लोगों व याह तक कि खुद जिला के स्थानीय भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं को भी OSD अमरेन्द्र सिंह संतुष्ट न कर पाएं वही जब जब मुख्यमंत्री खट्टर करनाल आते थे तब तब कोई न कोई व्यक्ति मुख्यमंत्री से मिल उनके OSD के बारे में कुछ न कुछ जानकारियां उन्हें देता रहता था ,वही पिछले 6 महीने के दौरान OSD व उनके साथ साथ रहने वाले कुछ लोगों के बारे में कई तरह की शिकायतें मुख्यमंत्री जी के पास पहुँचने लगी थी जिसके चलते कहीं न कहीं उन्हें करनाल से दूर रखने और चंडीगढ़ बिठाने का फैसला मुख्यमंत्री को लेना पड़ा !

वही इस बारे में वरिष्ठ कांग्रेसी नेता व पूर्व विधानसभा स्पीकर कुलदीप शर्मा का कहना है कि मुख्यमंत्री के OSD अमरेन्द्र सिंह के बारे में सबसे उन्होंने प्रूफ के साथ खनन मामले में उनके शामिल होने की बात मीडिया के सामने रखी थी लेकिन क्या मुख्यमंत्री ने उस मामले की जांच करवाई मैं बताता हूं नहीं करवाई ,वही कुलदीप शर्मा ने मुख्यमंत्री जी से सवाल पूछते हुए कहा कि अब उन्होंने अपने सबसे नजदीकी OSD को करनाल से वापिसी बुला लिया है और जानकारी यह है कि कई तरह की शिकायतें मुख्यमंत्री के पास पहुँची है क्या मुख्यमंत्री अब अपने OSD के बारे में मिली शिकायतों की जांच करवाएंगे ?

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.