करनाल निजी स्कूलों में चल रहा खुलेआम कमीशनखोरी का धंधा , NCERT की जगह प्राइवेट पब्लिशर्स की लगाई जा रही कई कई गुना ज्यादा महंगी किताबें ,देखें पूरी खबर

0
Advertisement


शेयर करें।
  • 1.3K
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1.3K
    Shares

रिपोर्ट – (कमल मिड्ढा ): स्कूलों के नए सत्र के दाखिले शुरू हो गए हैं, वही सी एम् सिटी करनाल में निजी स्कूल मनमर्जी अनुसार एनसीईआरटी की किताबों की जगह प्राइवेट पब्लिशर्स की किताबें लगा रहे हैं ! खुलेआम 25 से 30 प्रतिशत कमीशनखोरी के चक्कर में अभिभावकों को नुकसान पहुंच रहा है , अभिभावकों से ज्यादा फीस ली जा रही है !

Advertisement


शिक्षा विभाग की ओर से वेबसाइट पर अभी तक फार्म छह की रिपोर्ट नहीं दी गई है, जिससे अभिभावकों को पता चल सके कि कौन से स्कूल में कितनी फीस बढ़ाई गई है ! वही जिले भर के सभी निजी स्कूलों की ओर से मनमर्जी अनुसार फीस बढ़ाकर अभिभावकों से अतिरिक्त चार्ज लिया रहा है ,समय अनुसार जिला शिक्षा विभाग की ओर से नए सत्र की तैयारी नहींं की जाती है !

कक्षा एनसीईआरटी – प्राइवेट बुक के बिच रेट डिफ़रेंस

  • पहली से तीसरी 250-300 2000-3000
  • चौथी से पांचवी 320-350 3000-5000
  • पांचवी से आठवीं 650-850 5000-6500
  • नौवी से बारहवीं 1050-1250 6500-9000

एकता मंच सौंपेगा डीसी को ज्ञापन

अभिभावक एकता मंच की ओर से अभिभावकों को आ रही परेशानी को लेकर हर साल की तरह इस बार भी करनाल डीसी को आज ज्ञापन सौंपा जायेंगा !
अभिभावक एकता मंच की ओर से ज्ञापन देकर सरकार से जायज फीस लेने की मांग की जाएगी, जिससे समय अनुसार इन स्कूलों पर कार्रवाई हो सके ! हर साल यही राग एडमिशन के दौरान देखने को मिलता है लेकिन इस और आखिर कार सरकार व जिला पर्शाशन कोई कारवाही क्यों नहीं करता है यह अपने आप में एक बड़ा सवाल है !


शेयर करें।
  • 1.3K
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    1.3K
    Shares
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.