30 अप्रैल से पहले मुख्यमंत्री करेंगे नए बस अड्डे का उद्घाटन – आदित्य दहिया

0
Advertisement

करनाल उपायुक्त आदित्य दहिया ने बताया कि करनाल के नये बस अड्डे का उद्घाटन मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा 30 अप्रैल से पहले किया जाएगा। संबंधित विभाग समय से पहले सभी जरूरी तैयारियां पूरी कर लें ताकि बस अड्डे में आने-जाने वाले वाहनों को कोई दिक्कत ना हो और ना ही यात्रियों को कोई परेशानी आए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह जो भी कार्य वह पूरा करें,उसकी फोटो बनाकर जरूर भेजे ताकि इसे अगली बैठक में समिति के सामने रखा जाए।

उपायुक्त सोमवार को लघु सचिवालय के सभागार में सडक़ सुरक्षा समिति की मासिक बैठक में प्रबंधों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल शीघ्र ही लोगों की सुविधा के लिए करनाल के नये बस अड्डे को चालू करना चाहते है,परन्तु इससे पहले संबंधित विभाग के अधिकारियों को जरूरी सुविधाओं पर काम करना है। उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को निर्देश दिये कि बस अड्डे की निकासी व प्रवेश को शीघ्र बनाया जाए।

Advertisement


जीएम रोडवेज को निर्देश दिये कि बस अड्डे पर आने वाले ऑटो रिक्शा,थ्रि व्हीलर की पार्किंग की व्यवस्था हो,कोई भी वाहन सडक़ों पर खड़ा ना हो,इसके उचित प्रबंध किये जाए। उन्होंने यह भी बताया कि नैशनल हाई-वे से सीधी बस अड्डे में वाहनों के प्रवेश के लिए भी व्यवस्था की जाएगी,इसके लिए सरकार द्वारा 1 करोड़ 66 लाख रूपये अलग से मंजूर किये है। आने वाले 6 माह के अंदर-अंदर यह भी सुविधा हो जाएगी।

उन्होंने एसडीएम करनाल नरेन्द्र पाल मलिक को कहा कि वे स्वयं जाकर पक्का पुल के सामने की सडक़ का जायजा लें और यह भी देखे कि आने वाले श्रद्धालुओं और ग्रामीणों को किस प्रकार आने-जाने में और सुविधा मिल सके। उपायुक्त ने एन एच आई के उपस्थित प्रतिनिधियों को निर्देश दिये कि वे अपने कार्यो की अनदेखी ना करें बल्कि हर कार्य को प्रोपर ढंग से करें ताकि लोगों को सुविधा मिल सके।

जहां भी सडक़ों पर गड्डे दिखाई दे,उनको ठीक करने का काम करें,निर्देशों का इंतजार ना करें। उपायुक्त ने बताया कि यातायात के नियमों पर सख्ती बरतते हुए पुलिस द्वारा 2500 बिना लाईसेंस के ,224 बिना हेल्मट के,483 आउट साईड के 13 मोबाईल और आरटीए द्वारा 897 ऑवरलोडिंग के चालान किये गए है। इतना ही नहीं गलत ड्राईविंग करने वालों के 20 लाईसेंस रद्द किये गए है और स्पीड पर चलाने वालों के 4 लाईसेंस रद्द किये गए है। उपायुक्त ने पीडब्ल्यूडी और नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि दुर्घटनाओं को कम करने के लिए सडक़ों पर जेबरा क्रासिंग व संकेत चिन्ह लगाए।

उपायुक्त ने बताया कि आज की बैठक में 27 कार्य रखे गए,जिनमें से 17 पूरे हो गए,9 पर कार्यवाही चल रही है और एक मामला कोर्ट में लम्बित है। उन्होंने बताया कि अगली बैठक के लिए आज 11 अलग से कार्य चयनित किये गए।

उन्होंने समिति के सदस्यों का आह्वान किया कि वे भी सडक़ सुरक्षा को लेकर समिति की मेल आई डी पर अपना सुझाव समिति के पास भेज सकते है,उन पर गहनता से विचार किया जाएगा। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त एवं सचिव आरटीए निशांत कुमार यादव,एसडीएम घरौंडा मोहम्मद इमरान रजा,एसडीएम करनाल नरेन्द्र मलिक,सीटीएम ईशा काम्बोज, समिति के गैर सरकारी सदस्य संदीप लाठर,जे आर कालड़ा,नैशनल हाई-वे के प्रतिनिधि आदित्य राणा, के सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.