मानुषी मिस इंडिया वर्ल्ड 2017 बनने के बाद पहली बार पहुँची अपने कॉलेज

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

सोनीपत के खानपुर मेडिकल कॉलेज से डॉक्टरी की पढ़ाई कर रही मानुषी मिस इंडिया वर्ल्ड 2017 बनने के बाद पहली बार पहुँची अपने कॉलेज ,हुआ जोरदार स्वागत

मुम्बई में आयोजित हुई 54 वीं फेमिना मिस इंडिया वर्ल्ड 2017 में फेमिना मिस इंडिया वर्ल्ड 2017 बनने के बाद मानुषी छिल्लर पहुंची सोनीपत ! गांव खानपुर कला के भगत फूल सिंह महिला मेडिकल कॉलेज में MBBS की सेकंड ईयर की छात्रा है मानुषी ,कॉलेज प्रबंधन और उनकी सहपाठियों ने किया जोरदार स्वागत ! मानुषी छिल्लर ने कहा अब मिस वर्ल्ड ताज भारत के लिए लाना ही मेरा सपना ! मैं केवल मिस इंडिया बनकर नहीं जीना चाहती ,बल्कि हरियाणा के लिए आईकोन बनकर कुछ काम करुं इसी बात को लेकर कल चंडीगढ़ में प्रदेश के मुख्यमंत्री से भी मुलाकात करेगीं ,इस दौरान मानुषी ने कॉलेज परिसर में पौधारोपरण भी किया !


इस दौरान मानुषी की सहपाठियों ने मानुषी के साथ केक काटकर खुशी जाहिर की तथा मानुषी को मिस इंडिया बनने पर बधाई देकर मिस वल्र्ड की कामनाएं की ! इस अवसर पर मानुषी ने पत्रकारों से भी बातचीत की तथा कहा कि वह मिस इंडिया तक सीमित नहीं रहना चाहती बल्कि अब उसका अगला लक्ष्य मिस वल्र्ड बनने का है तथा उसके लिए कड़ी टक्कर देने के लिए उसने अभी से तैयारी करनी शुरु कर दी है जो कि चीन में आयोजित किया जाना है ! वही मिस छिल्लर ने स्वीकार किया कि मिस इंडिया जैसे ताज जीतने के बाद कई बार हम भीड़ में खो जाते हैं मगर व न केवल मिस वल्र्ड के लिए तैयारी करेगी बल्कि हरियाणा की माटी से जुड़कर एक आईकान बनकर अपने राज्य के लिए भी काम करेगी ! क्योंकि आज भी हरियाणा में घूंघट जैसी प्रथा तथा बेटियों के पैदा होने पर जश्र मनाने की बजाय दुख प्रकट किया जाता है ! जबकि आज बेटियां हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा के बल पर आगे बढ़ रही हैं, इसी बात को लेकर वे आज प्रदेश के मुख्यमंत्री से भी मुलाकात करेगीं ताकि वे मेरे वल्र्ड कम्पटीशन में भाग लेने के लिए मदद भी करें , साथ ही मिस छिल्लर ने कहा कि वे डाक्टर की अपनी पढ़ाई जारी रखेगीं मगर फिलहाल कुछ महीनों के लिए उसे ब्रेक लेना पड़ रहा है !

Advertisement


वही यहां तक पहूचंने के लिए मानुषी ने अपने मां डा. नीलम और पिता मित्रवंशी छिल्लर तथा कॉलेज स्टाफ का योगदान बताते हुए कहा कि उसे जब भी किसी तरह की परेशानी होती तो वह अपनी क्लासमेट और अपने शिक्षकों से फोन पर बातचीत करती थी तो वे उसका हौंसला बढ़ाने में हमेशा आगे दिखाई दिये ! वही मिस इंडिया मानुषी के साथ आई उसकी मां डा. नीलम ने बताया कि हमें तो इस फील्ड के बारे में कोई जानकारी नहीं थी कि यहां तक पहूंचने का रास्ता कौन सा है और कहां से शुरु होता है !

मगर मानुषी बचपन से ही कुछ न कुछ बनने के लिए अपने आप ही प्रयोग करती रहती थी !बेडरुम में आईने के सामने खड़ी होकर मेरी सारी साड़ी बांधकर खोल कर ढ़ेर लगा देती थी तथा कई बार कैटवाक करती रहती, हांलाकि इसके लिए मैने न तो कभी उसे टोका ओर न ही कभी उसको डांटा ! मिस इंडिया या मिस वल्र्ड बनने के बाद अकसर लड़कियां वालीवुड की और कदम बढ़ा देती है के सवाल पर डा. नीलम ने कहा कि वह जो करना चाहती है यह उसकी अपनी मर्जी होगी और हम उसकी स्र्पोट में उसके साथ खड़े होगें !


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.