मनोज वधवा ने मुख्यमंत्री व भाजपा नेताओं को ठहराया अपने भाई सोनू वधवा की मौत का जिम्मेदार, प्रेसवार्ता कर किये कई अहम खुलासे

0
Advertisement



करनाल के डिप्टी मेयर मनोज वधवा ने नीलोखेड़ी के विधायक कबीर पंथी पर गंभीर आरोप लगाए है ,जब नोटबन्दी के दौरान तरावड़ी में मनोज वधवा के पिता की कंपनी से 16 लाख 45 हजार रुपये पकड़े गए थे उस समय अकाउंटेंट कंपनी का पैसा इक्कठा करके करनाल ला रहा था
भाजपा विधायक कबीर पंथी ने मुझे फंसाने के लिए मेरे खिलाफ रचा था षडयंत्र !
भाई की मौत के 8 महीने बाद करनाल में आयोजित प्रेसवार्ता में मनोज वधवा ने मीडिया के सामने कई खुलासे करते हुए बताया कि जब वो तरावड़ी थाना पहुँचे उस समय एस एच ओ को नीलोखेड़ी के विधायक कबीर पंथी का फोन आया हुआ था ,
मैंने विधायक को थानेदार को यह कहते सुना कि मनोज वधवा को किसी भी हाल में छोड़ना नहीं है ! इसको इस मामले में शामिल कर मामला दर्ज करो !
साढ़े आठ महीने बाद भी नहीं मिला सोनू वधवा को इंसाफ ! मनोज वधवा के भाई सोनू वधवा ने नोट बंदी के दौरान दी थी अपनी जान ,इनकम टैक्स के इस मामले में करनाल पुलिस ने दिखाई ज्यादा दिलचस्पी, ऐसा आरोप भी लगाया मनोज वधवा ने !
मनोज वधवा ओर परिवार को हाईकोर्ट से मिली बड़ी राहत
मनोज वधवा ने बताया कि इस 9 मई को 3 पुलिस कर्मियों के साथ मेरे पिता को भी जमानत दे दी गई है ! यह एक झूठा मुकदमा था, सरकार और पुलिस हमारे खिलाफ कोई ठोस सबूत पेश नहीं कर पाई , ये एक राजनीतिक बदला है , जो सरकार ने मुझसे लिया है ! मेरे पिता की कंपनी के अकाउंटेंट को पुलिस ने उठाकर थर्ड डिग्री देकर प्रताड़ित किया !
मेरे भाई को जब अकाउंटेंट ने बताया कि उसको पुलिस ने थर्ड डिग्री दी है , वो घबरा गया और उसने अपनी जीवन लीला को खत्म कर लिया ! शायद उसकी मौत के बाद पुलिस उसके परिवार को प्रताड़ित करना बंद कर दे !
सरकार और मुख्यमंत्री को बहुत बार गुहार लगाने के बाद भी सोनू वधवा को नहीं मिला इंसाफ- मनोज वधवा,सरकार ने जो एस आई टी गठित की थी,अधिकारियों के बदलने पर बार बार बयान के लिए बुला कर प्रताड़ित किया !
जब मेरे भाई की पोस्टमार्टम हो रही थी तो तब करनाल पुलिस के मौजूदा एस पी और आई जी ने भरोसा दिया कि आपके भाई के दोषियों पर क़ानूनी कार्यवाही की जाएगी !
मनोज वधवा ने आरोप लगाया कि उनके अकाउंटेंट को थर्ड डिग्री दी गयी, उसको लालच भी दिया कि मनोज वधवा का नाम ले लो तुम्हें 5 लाख रुपया और सरकारी नौकरी दी जाएगी !
मुख्यमंत्री ने मुझे हमेशा झूठ बोलकर ग़ुमराह करने की कोशिश कि आपके साथ जो हुआ है वो दुर्भाग्यपूर्ण है हम आपके साथ अन्याय नहीं होने देंगे ! मनोज वधवा ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खाली झूठे आश्वासन दिए और कुछ नहीं !

 

Advertisement



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.