महाराजा अग्रसेन चेतना एवं सदभावना रथ यात्रा का कर्ण नगरी में जोरदार स्वागत किया।

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

करनाल। पुणे से शुरू हुई महाराजा अग्रसेन चेतना एवं सदभावना रथ यात्रा का कर्ण नगरी में जोरदार स्वागत किया। इस यात्रा को लेकर करनाल पहुंचे हरियाणा राज्य व्यापारी कल्याण निगम के चेयरमैन गांपाल शरण गर्ग तथा उनके साथ चल रहे लोगों ने महाराजा अग्रसैन  की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। गर्ग ने कहा कि अग्र समाज हमेशा राष्ट्रीय एकता का पक्षण्र रहा है। समाज में समरसता और एकता के लिए यह यात्रा देश भर में अलख जगा रही है।

आज यह यात्रा  करनाल पहुंचेगी। इय यात्रा का नमस्ते चौक पर जोरदार स्वागत किया। उसके बाद इस यात्रा का निर्मल कुटिया चौक पर पहुंची। यहां पर अग्रवाल वैश्य संगठन के कोर ग्रुप के अध्यक्ष शम्मी बंसल तथा हरियाणा चैम्बर आफ कामर्स के उपाध्यक्ष अमित गुत ने स्वागत किया। यहां से  यह यात्रा  शहर अस्पताल चौक, महात्मा गांधी चौक से होते हुए महाराजा अग्रसेन चौक पर पहुंचगी। जगह जगह इय यात्रा का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। शहर को प्रवेश द्वारों से सजाया गया। महाराजा अग्रसेन चौक पर कार्यक्रम के संयोजक विनोद गोयल ने अतिथियों का जोरदार सगत किया।

Advertisement


उसके बाद यहां पर ढोल नगाड़ों की थाप पर नाच गाकरा यात्रा का सगत कियागया। यहां पर लिवर्टी के डायरेक्टर शम्मी बंसल,पूर्व मेयर रेणुवाला गुप्ता, पूर्व डिप्टी मेयर मनोज बधवा,ब्रज गुप्ता,पूर्व सीनियर डिप्टी मेयर कृघ गर्ग,विनय गोयल,राकेश सिंगल नीरज गुप्ता, नीरज सिंगला ज्ञान चंद गुप्ता,लेख राज गर्ग,नेर्हा ,विनोद गुप्ता,रोहित गुप्ता,रमेश जिंदल रमेश,दीपक गुप्ता,रामलाल अग्रवाल,सुनील गुप्ता,सुरेश गुप्ता, सहित समाज के विभिन्न लोग मौजूद थे।

पुणे से शुरू हुई इस रथ यात्रा में महाराजा अग्रसेन के रथ के साथ समाज के 18 गोत्रों को समर्पित रथ चल रहे थे। इस यात्रा में 54 लोग शामिल थे। इसकी अगुवाई अग्रवाल वैश्य महासम्म्ेलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोपाल शरण गर्ग कर रहे थे। उनके साथ राजेश बंसल,सीबी गोयल,कुलभूषण गोयल सहित अन्य लोग चल रहे थे।

पत्रकारों से बात करते हुए अग्रवाल सम्म्ेलन के जिलाध्यक्ष विनोदगोयल ने कहा कि यह समाज देश की एकता पर जोर देता है। इस समाज ने लेना नहीं देना सीखा है। इस समाज को आपसी समरसता से सरोकार है। उन्होंने कहा कि यह समाज सभी को साथ लेकर चलना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमं आरक्षण नहीं चाहिए।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.