लोक सभा और विधान सभा चुनाव हरियाणा में एक साथ नहीं होंगे: मुख्यमंत्री मनोहर लाल

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि नगर निगमों के हाल ही में हुए मेयर चुनावों में उनकी जातिगत टिप्पणी को गलत तरह से प्रस्तुत किया गया, हर व्यक्ति की जन्म से ही कोई ना कोई जाति होती है, इसलिए राजनीति को जाति से नहीं जोड़ा जाना चाहिए। चुनाव में जीत तो सभी को अच्छी लगती है। लोक सभा व विधान सभा चुनाव हरियाणा में एक साथ नहीं होंगे।

मुख्यमंत्री आज करनाल लघु सचिवालय से सभी 22 जिलों में वीडियो कॉन्फ्रे सिंग के माध्यम से अंत्योदय सरल केन्द्रों का शुभारम्भ करने उपरांत पत्रकार सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। जब उनसे कांग्रेस विधायक कुलदीप शर्मा द्वारा गत दिनों दिये गए नगर निगमों के चुनाव में उन द्वारा की गई जातिगत टिप्पणी के बारे प्रतिक्रिया जाननी चाही तो मुख्यमंत्री ने ऐसा कहा।

Advertisement


एक प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे देश में लोक सभा और विधान सभा चुनाव एक साथ करवाने का एक माहौल तैयार किया जा रहा था,इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों को अपनी राय देनी होंगी और सदन में बिल पारित करना होगा। जहां तक हरियाणा का संबंध है चुनाव अपने निर्धारित समय पर ही होंगे,अगर केन्द्रीय चुनाव आयोग द्वारा ऐसा किया जाता है तो सरकार एक साथ चुनाव के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2024 के आम चुनाव पूरे देश में एक साथ करवाने की संभावना बन सकती है।

करनाल में मारूति द्वारा अपनी इकाई स्थापित करने के संबंध में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मारूति पर निर्भर है, सरकार की ओर से मारूति को गुरूग्राम में 2, समालखा, फरीदाबाद व करनाल में 1-1 स्थान की पेशकस की गई है। रोहिंग्या मुसलमानों के संबंध में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह केन्द्र सरकार का मुद्दा है, जहां तक हरियाणा का सवाल है गृह विभाग द्वारा रोहिंग्या मुसलमानों के लिए रहने की अस्थाई व्यवस्था की गई है।

एक प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश की दो महान विभूतियों पूर्व प्रधानमंत्री स्व०अटल बिहारी वाजपेयी व महानमा मदन मोहन मालवीय का जन्मदिवस भी है और पूरे देश में आज सुशासन दिवस के कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है, उसी कड़ी में आज हरियाणा में भी 37 विभागों की 485 सेवाएं व योजनाओं की ऑनलाईन शुरूआत की गई है। उन्होंने बताया कि ई-गर्वनेंस के माध्यम से सुशासन लोगों को दे सकते है। उन्होंने कहा कि सेवा के अधिकार अधिनियम के तहत पहले से ही सेवाओं की अवधि निर्धारित है और सरल केन्द्रों में भी सेवाएं समयबद्ध होंगी।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जिले से सरल केन्द्रों का फीडबैक लिया जाएगा और उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वालों को सम्मानित भी किया जाएगा। सेक्टर-16 पोलिक्लीनिक के संबंध में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उनको जानकारी दी गई कि इसका भवन तैयार है और स्वास्थ्य विभाग को डॉक्टर व अन्य स्टाफ की नियुक्ति के लिए मांगपत्र भेजे गए।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने हरियाणा पत्रकार संघ की पत्रिका हरियाणा पत्रकार संघ प्रगति के पथ पर का विमोचन भी किया। संघ के अध्यक्ष के.बी. पंडित ने मुख्यमंत्री के समक्ष पत्रकारों की कुछ मांगे भी उठाई।

इस अवसर पर हैफेड़ के चेयरमैन एवं घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण, नगर निगम की नवनिर्वाचित मेयर रेनू बाला गुप्ता, स्वच्छ भारत मिशन के उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र, शुगरफेड के चेयरमैन चंद्रप्रकाश कथूरिया,  एसपी एस एस भौरिया, भाजपा जिलाध्यक्ष जगमोहन आंनद, महामंत्री एडवोकेट वेदपाल, भाजपा नेता अशोक सुखीजा, शमशेर नैन, योगेन्द्र राणा, राजबीर शर्मा, जगदेव पाढा, आजाद सिंह सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति व अधिकारी उपस्थित थे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.