पंचायत भवन में द्वियांगो को नि:शुल्क कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरणो का वितरण शिविर किया गया आयोजित

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंडियन आयल कॉरपोरेशन (आई.ओ.सी.एल.) के  सहयोग से, देश के करीब आधा करोड़ द्वियांगजनो को कृत्रिम अंग और सहायक उपकरण वितरित कर गिनीज बुक में 4 बार अपने नाम रिकॉर्ड बनाने वाली भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम (एलिम्को) व द्वियांगजन सशक्तिकरण विभाग की ओर से बुधवार को शहर के पंचायत भवन में द्वियांगो को नि:शुल्क कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरणो का वितरण शिविर आयोजित किया गया।

जिला रैड क्रॉस सोसाईटी के अध्यक्ष एवं उपायुक्त आदित्य दहिया ने दीप प्रज्जवलन किया और अपने सम्बोधन के बाद द्वियांगजनो को अप्लाईंसिस वितरित किए। कुल 421 द्वियांगो को 775 कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण वितरित किए गए। कार्यक्रम का आयोजन जिला प्रशासन एवं रैड क्रॉस सोसाईटी के सहयोग से किया गया था।

Advertisement


आई.ओ.सी.एल. (हरियाणा एवं दिल्ली क्षेत्र) कार्यकारी निदेशक सज्जन कुमार, वरिष्ठ  मुख्य महाप्रबंधक, रश्मि ढीगड़ा, मुख्य प्रबंधक राजेश कुमार, एलिम्को के यूनिट हैड अरूण मिश्रा तथा रैडक्रॉस सोसाईटी के सचिव सुनील कुमार भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

अपने सम्बोधन में उपायुक्त ने आई.ओ.सी.एल. तथा एलिम्को की ओर से समाज के जरूरतमंदो की सहायता के लिए किए जा रहे ऐसे प्रयासो की सराहना की और कहा कि नि:स्ंदेह यह एक बड़ा ही नेक कार्य है और उनसे उम्मीद जताकर कहा कि करनाल में वे इस तरह के शिविर आयोजित करते रहें, ताकि हर द्वियांगजन कृत्रिम अंग और सहायक उपकरण पाकर लाभांवित हो सके।

उन्होने कहा कि द्वियांग भी हमारे सामाज का एक अभिन्न अंग हैं और समूचित आदर के भागीदार हैं। यही कारण है कि देश के प्रधानमंत्री ने उन्हे द्वियांग शब्द देकर उनका मान बढ़ाया है। उन्होने कहा कि द्वियांग भी सहायता पाकर अपने कर्म क्षेत्र में ऊंचाईयों को छू सकता है। द्वियांगो के लिए शुभकामनाओं के शब्द बोलते हुए कहा कि वे अपने आस-पास, गली-मोहल्ला व समाज में इस बात का प्रचार करें कि कोई भी जरूरतमंद द्वियांग कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण प्राप्त करने के लिए जिला रैड क्रॉस सोसाईटी के सचिव के पास जाकर अपना पंजीकरण करवा लें।

आई.ओ.सी.एल. के कार्यकारी निदेशक सज्जन कुमार ने इस अवसर पर बताया कि कम्पनी का करीब 15 लाख करोड़ का कारोबार है और इसके सालाना बजट में सी.एस.आर. कोष के लिए साढ़े 300 करोड़ रूपये रखे गए हैं। इस राशि में से अब तक साढे 7 करोड़ रूपये वितरित किए जा चुके हैं। प्रदेश के गुरूग्राम, पलवल, फरीदाबाद और करनाल में नि:शुल्क वितरण केन्द्र लगाए जा चुके हैं, अगले वर्ष कुछ ओर जिलो में भी लगाएंगे। उन्होने बताया कि आज के कार्यक्रम में भी करीब 60 लाख रूपये के उपकरण वितरित किए गए हैं। उन्होने उपायुक्त को यकीन दिलाया कि वे भविष्य में भी इस तरह के शिविर लगाने से पीछे नही हटेंगे, ताकि ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद इनका लाभ उठा सकें।

एलिम्को के ईकाई प्रमुख अरूण मिश्रा ने स्वागत एवं रैड क्रॉस सोसाईटी के सचिव सुनील कुमार ने धन्यवाद ज्ञापित किया।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.