परोपकार मानव का फर्ज है- मुनि पीयूष

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

राष्ट्र संत वाचनाचार्य श्री मनोहर मुनि जी महाराज की 70वीं दीक्षा जयन्ती के उपलक्ष्य में वी.यू.एम.एम. जैन पब्लिक स्कूल में कृत्रिम अंग वितरण शिविर का आयोजन अति सफलतापूर्वक हुआ, जिसमें जिला रैडक्रास की विशेषज्ञ टीम ने दिव्यांगों को कृत्रिम अंग प्रदान किए। मरीजों के हाथों, पैरों के माप लिए गए और जरूरत के अनुसार ट्राइसाईकिल, व्हील चेयर बांटे गए। काफी संख्या में सुनने की समस्या वाले मरीजों को सुनने में सहायक मशीने बांटी गई। कार्यक्रम के प्रेरक उपप्रवर्तक श्री पीयूष मुनि जी ने कहा कि महान अध्यात्म विभूति वाचनाचार्य मनोहर मुनि जी की दीक्षा जयन्ती पर लोक कल्याणकारी कार्यक्रम श्रंखला के पहले दिन दिव्यांगों को अंग बांटने का समाजसेवी कार्य सभी सहयोगियों के प्रयासों से कामयाब हुआ है। उन्होंने परोपकार तथा दूसरे का सहयोग करना मानव का फर्ज बतलाते हुए कहा कि परोपकार सबसे बड़ा पुण्य और दूसरों को तकलीफ पहुंचाना सबसे बड़ा पाप है।
यह समस्त धर्मग्रन्थों का सार है कि दूसरों को कष्ट न पहुंचाते हुए यथाशक्ति सुख दिया जाए। परोपकार तन, मन, धन तथा वाणी से किया जा सकता है। मानव जीवन को पाकर शरीर, मन, बुद्धि और सांसारिक वस्तुओं में आसक्ति न रखकर सभी के भले और कल्याण के लिए कार्य करना चाहिए। परोपकार जैसा आनन्द और कहीं नहीं है। जो आनन्द दूसरों का भला करने में आता है, वह व्यक्तिगत भोग में नहीं मिलता। स्वामी श्री मुक्तानन्द तथा साध्वी मानवी ने भी अपने प्रेरक विचार प्रकट किए।
कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री धर्मवीर जैन, (मिनी किंग, लुधियाना)ने की। मुख्य अतिथि स्टील व्यवसायी अनिल जैन, मालेरकोटला रहे। नवनीत बंसल, सामाना ने झण्डा फहराया तथा सुभाष जैन महावीर सूटिंग ने दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। रतन लाल जैन, जैन ब्रदर्ज ने अतिथियों का सम्मान किया।
वी.यू.एम.एम. जैन पब्लिक स्कूल के विद्यार्थियों ने नवकार मंत्र, गणेश वंदना, स्वच्छ भारत का संदेश समेटी लघु नाटिका, दूसरों का सहयोग करने के सार के लिए मंच पर प्रस्तुत नाटक से सभी का मन मोह लिया। स्वागत गीत के द्वारा सभी अतिथियों का सम्मान किया गया। डॉ. राकेश मित्तल, डॉ. संजय खन्ना, डॉ. भाटिया, डॉ. सुनील कुमार ने शिविर में सबसे अधिक योगदान देकर इसे सफल किया। एडीजीपी एस.के. जैन, मानवाधिकार आयोग के रजिस्ट्रार एस.सी. गोयल इस मौके पर मौजूद रहे। लंगर मालेरकोटला निवासी वीरेन्द्र जैन एडवोकेट की ओर से रहा। सैंकड़ों मरीजों ने इस शिविर से लाभ लिया।
बाल संस्कार ग्रहण दिवस 19 फरवरी को
राष्ट्र संत वाचनाचार्य श्री मनोहर मुनि जी महाराज की 70वीं दीक्षा जयन्ती पर दूसरे दिन आज बाल संस्कार ग्रहण दिवस वी.यू.एम.एम. जैन पब्लिक स्कूल में सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक रहेगा जिसमें स्कूलों के विद्यार्थियों को सामाजिक बुराईयों की हानियां बताकर सदाचारी, नैतिक जीवन जीने का संकल्प कराया जायेगा। आर.एस. के वरिष्ठ प्रचारक श्री इन्द्रेश जी मुख्य वक्ता होंगे। शिक्षा मंत्री श्री रामबिलास शर्मा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहेंगे। उपप्रवर्तक श्री पीयूष मुनि, मौलाना कोकब, भाई सतपाल भी छात्रों को सम्बोधित करेंगे। अनेक गणमाण्य अधिकारीगण तथा समाजसेवी इस मौके की शोभा बढाएंगे।

शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.