पंडित चिरंजीलाल शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में रक्तदान शिविर का आयोजन

0
Advertisement

सेक्टर 14 स्थित पंडित चिरंजीलाल शर्मा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में शुक्रवार को रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। महाविद्यालय की रेडक्रॉस कमेटी और रेड रिबन क्लब के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित इस रक्तदान शिविर में महाविद्यालय के 129 से ज्यादा प्राध्यापकों व विद्यार्थियों ने रक्तदान किया। शिविर के सफल आयोजन में महाविद्यालय की एनसीसी एयर विंग व एनसीसी आर्मी विंग के कैडेट्स और एनएसएस के स्वयंसेवकों ने अहम भूमिका निभाई। शिविर में कुरुक्षेत्र डेवलपमेंट बोर्ड के ऑनरेरी सेक्रेटरी श्री अशोक सुखीजा ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की और रक्तदाताओं का उत्साहवर्धन किया। प्राचार्य डॉ प्रवीण भारद्वाज ने मुख्यातिथि श्री अशोक सुखीजा का महाविद्यालय प्रांगण में पहंुचने पर आभार प्रकट किया। डॉ प्रवीण भारद्वाज ने शिविर के सफल आयोजन के लिए रेडक्रॉस कमेटी के संयोजक डॉ प्रवीण वत्स और उनकी पूरी टीम को बधाई दी।
मुख्यातिथि श्री अशोक सुखीजा ने अपने संबोधन में कहा कि रक्तदान महादान है और रक्तदान करने से समाजसेवा की भावना का विकास होता है। उन्होंने कहा कि हमें रक्तदान से कतई घबराना नहीं चाहिए और बाकी लोगों को रक्तदान के लिए प्रेरित करना चाहिए। उन्होनें मल्टीप्रपस हाल/सभागार के अधूरे पड़े निर्माण कार्य को मुख्यमंत्री से मिलकर अति शीघ्र करवाने का आश्वासन दिया। उन्होनें सभी रक्तदाताओं को बोर्नवीटा की कैन उपलब्ध करवाई। उन्होंने शिविर में रक्तदान करने वाले प्राध्यापकों और विद्यार्थियों से बातचीत की और उनका उत्साहवर्धन किया। महाविद्यालय परिवार की तरफ से डा0 शीशपाल, डा0 लखविन्द्र, डा0 जयप्रकाश, डा0 सुनील दत, डा0 गुरूचरण सिंह, डा0 अमरदीप, नवदीप आर्य, अभिनव, सतीश शर्मा ने रक्तदान किया।
प्राचार्य डॉ प्रवीण भारद्वाज ने कहा कि महाविद्यालय की रेडक्रॉस कमेटी और रेड रिबन क्लब की ओर से हर वर्ष रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाता है। उन्होंने एनसीसी कैडेट्स और एनएसएस के स्वयंसेवकों की जमकर सराहना की और सभी रक्तदाताओं का आभार प्रकट किया। शिविर में प्रोफेसर शीशपाल और प्रोफेसर सुरेश दुग्ग्ल ने सभी रक्तदाताओं के लिए दूध, फल और जलेबी की विशेष व्यवस्था की।
इस अवसर पर प्रोफेसर सत्यपाल सिंह, डॉ जेएस छिल्लर, प्रोफेसर शीशपाल, डॉ सुमन चुघ, डॉ रणजीत सिंह, डॉ प्रवीण वत्स, डॉ प्रवीण कौशिक, प्रोफेसर सुरेश दुग्गल और डॉ लखविंद्र सिंह समेत महाविद्यालय के सभी स्टाफ सदस्य मौजूद रहे।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.